राष्ट्रीय

श्रद्धांजलि: जवानों की शहादत पर सेना बोली-व्यर्थ नहीं जाएगी कुर्बानी

शनिवर की दोपहर पाकिस्तान की ओर से घात लगाकर हमला किया गया था

श्रद्धांजलि: जवानों की शहादत पर सेना बोली-व्यर्थ नहीं जाएगी कुर्बानी

जम्मू कश्मीर के राजौरी सेक्टर में शनिवार को पाकिस्तान की ओर से किए गए संघर्षविराम उल्लंघन में एक मेजर समेत तीन जवान शहीद हो गए। इन बहादुर जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए भारतीय सेना की तरफ से कहा गया कि हम अपने जवानों का बलिदान यूं ही व्यर्थ नहीं जाने देंगे।

शनिवर की दोपहर पाकिस्तान की ओर से घात लगाकर हमला किया गया था। पाकिस्तान की ओर से इस गोलीबारी में सेना के मेजर मोहरकार प्रफुल्ल अंबादास, लांस नायक गुरमेल सिंह, लांस नायक कुलदीप सिंह और सिपाही परगट सिंह गंभीर रूप से घायल हो गए जिनकी बाद में मृत्यु हो गई. इस दौरान एक जवान घायल हो गया।

मेजर अंबादास महाराष्ट्र के भंडारा जिले के रहने वाले थे। वह अपने पीछे अपनी पत्नी अवोली मोहरकार छोड़ गए हैं। अंबादीस की मां ने कहा कि उनका बेटा कहा था कि नए साल पर घर आऊंगा लेकिन अब वह कभी नहीं आएगा। जबकि, 34 साल के लांस नायक गुरमैल सिंह पंजाब के अमृतसर के रहने वाले थे। ये अपने पीछे अपनी पत्नी कुलजीत कौर और एक बेटी छोड़ गए हैं।

तीस वर्षीय लांस नायक कुलदीप सिंह पंजाब के भटिंडा के गांव कॉरेणा के रहने वाले थे। ये अपने पीछे पत्नी जसप्रीत कौर और एक बेटा और एक बेटी छोड़ गये हैं। तो वहीं, तीस साल के सिपाही परगट सिंह हरियाणा के करनाल जिले के रहने वाले थे। ये अपने पीछे अपनी पत्नी श्रीमती रमनप्रीत कौर और एक बेटा छोड़ गए हैं। मेजर मोहरकार प्रफुल्ल अंबादास, लांस नायक गुरमैल सिंह और सिपाही परगट सिंह सेना के बहादुर और समर्पित सैनिक थे।

31 May 2020, 12:10 PM (GMT)

India Covid19 Cases Update

182,990 Total
5,188 Deaths
87,099 Recovered

Tags
Back to top button