भारतीय तटरक्षक को मिले तीन एएलएच एमके-3 हेलीकाप्टर

एचएएल ने किया है इनका निर्माण

बेंगलुरु, प्रेट्र। एयरोनाटिक्स लिमिटेड (HAL) ने शनिवार को बताया कि तीन उन्नत हल्के हेलीकाप्टर एएलएच एमके-3 को भारतीय तटरक्षक के बेड़े में शामिल किया गया है। इनका निर्माण हिंदुस्तान एयरोनाटिक्स ने किया है। तटरक्षक ऐसी पहली सेवा है, जिसने अपने चार केंद्रों पर हेलीकाप्टरों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए विमानन में प्रदर्शन आधारित सैन्य-तंत्र प्रबंधन प्रणाली का समावेश किया है।

एचएएल ने एक बयान में कहा कि एएलएच एमके-3 कार्यक्रम के तहत निर्मित इन हेलीकाप्टरों को भुवनेश्वर, पोरबंदर, चेन्नई व कोच्चि में तैनात किया जाएगा। एक वर्चुअल कार्यक्रम में रक्षा सचिव डा. अजय कुमार ने इन हेलीकाप्टरों को भारतीय तटरक्षक में शामिल कराया।

कार्यक्रम का आयोजन तटरक्षक के दिल्ली मुख्यालय के अलावा बेंगलुरु स्थित हेल के हेलीकाप्टर एमआरओ डीविजन में समानांतर रूप से किया गया था। भारतीय तटरक्षक के महानिदेशक के. नटराजन व हेल के सीएमडी आर. माधवन मौजूद थे।

अजय कुमार ने कहा कि ये परिष्कृत हेलीकाप्टर भारतीय तटरक्षक की अभियान क्षमता के लिए गेम चेंजर साबित होंगे। हेल ने कहा कि इन हेलीकाप्टरों में उत्कृष्ट श्रेणी के सर्विलांस रडार, इलेक्ट्रो आप्टिक पाड, मेडिकल आइसीयू, उच्च तीव्रता वाली सर्च लाइट, मशीन गन आदि उपकरण मौजूद हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button