अंतर्राष्ट्रीयराष्ट्रीय

भारतीय प्रवासियों ने कनाडा में बनाया एक नया रिकॉर्ड, जाने कैसे

2019 में दी गई मंजूरी के बाद कनाडा में एक चौथाई भारतीय प्रवासी

कनाडा: कनाडा की ओर से 2019 में दी गई मंजूरी के बाद कुल स्थायी निवासियों में एक चौथाई भारतीय प्रवासी हैं। पिछले साल 85,593 प्रवासी, स्थायी निवासी बने हैं, जिसके बाद भारत स्थायी निवास के लिए सबसे बड़ा स्रोत बन गया है।

ये संख्या अगले चार देशों से लिए प्रवासी निवासियों की कुल संख्या से भी ज्यादा है। ये डाटा संसद में प्रवासियों पर 2020 की वार्षिक रिपोर्ट के को रखने के बाद सामने आया। 2017 से भारत सबसे बड़ा स्रोत देश रहा है, जब उसने स्थायी प्रवासी को लेकर चीन को पछाड़ दिया था।

भारत से कनाडा जाने वाले प्रवासियों की संख्या में हाल ही में इजाफा हुआ है। 2018-19 के बीच इनमें 20 फीसदी की वृद्धि हुई है। कनाडा की सरकार कोविड-19 महामारी और दूसरे प्रतिबंधों की वजह से अनुमानित कमी के लिए देश में आने वाले प्रवासियों की संख्या में बढ़ोतरी कर रही है।

हालांकि 2021 के लिए पहले 3,51,000 और 2022 के लिए 3,61,000 स्थायी प्रवासियों की योजना थी लेकिन इसे बढ़ाकर 4,01,000 और 4,11,000 कर दिया गया है। जबकि 2023 के लिए यह संख्या 4,21,000 है।

कनाडा के प्रवासी मंत्री मार्को मेंडिसिना ने एक बयान में कहा कि महामारी से निकलने के लिए ही नहीं बल्कि देश के लघु अवधि के आर्थिक सुधार और लंबी अवधि की आर्थिक वृद्धि के लिए भी यह आप्रावासन जरूरी है।

कनाडा के लोगों ने देखा है कि कैसे नए लोग हमारे अस्पताल और देखभाल केंद्र में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते हैं और हमारी टेबल तक खाना परोसने में मदद करते हैं। हमारी योजना श्रम में आ रही कमी को तेजी से दूर करेगी और कनाडा को विश्व स्तर पर प्रतिस्पर्धा बनाए रखने के लिए हमारी आबादी को बढ़ाएगी।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button