खेल

भारतीय महिला हॉकी टीम एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में

डोंघाइ सिटी : गत चैम्पियन भारत ने आज मलेशिया को 3 . 2 से हराकर महिलाओं के एशियाई चैम्पियंस ट्राफी हाकी टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश कर लिया। भारत ने पिछले दो मैचों में जापान को 4 . 1 से और चीन को 3 . 1 से हराया था।

नौ अंकों के साथ पूल में शीर्ष पर काबिज भारत को आखिरी पूल मैच में शनिवार को कोरिया से खेलना है । फाइनल रविवार को खेला जायेगा। भारत के लिये गुरजीत कौर ( 17 वां मिनट ) , वंदना कटारिया ( 33 वां ) और लालरेम्सियामी ( 40 वां मिनट ) ने गोल किये जबकि मलेशिया के लिये नूरैनी राशिद ( 36 वां ) और हानिस ओन ( 48 वां ) ने गोल दागे।

कप्तान सुनीता लाकड़ा ने मैच के बाद कहा, हम गोल करने के कुछ और मौके भी भुना सकते थे । इस जीत से हम खुश हैं लेकिन जिस तरीके से खेला , उससे नहीं। हम टीम होटल में जाकर अपनी गलतियों पर बात करेंगे ताकि अगले मैच में बेहतर प्रदर्शन किया जा सके।

पहले क्वार्टर में दोनों टीमों को पेनल्टी कार्नर मिले लेकिन गोल नहीं हो सका। अभ्यास मैच में इसी टीम को छह गोल से रौंदने वाली भारतीय टीम के लिये पहला गोल गुरजीत ने दागा। मलेशियाई डिफेंडरों ने भारतीय फारवर्ड पंक्ति को गोल करने के मौके नहीं दिये और दबाव बनाये रखा। हाफटाइम के बाद हालांकि भारतीयों ने तरोताजा होकर वापसी की और दबाव दाबारा नहीं बनने दिया।

जवाबी हमले में वंदना ने 33 वें मिनट में दूसरा गोल दागा। भारत ने इसके तुरंत बाद पेनल्टी स्ट्रोक गंवा दिया जिस पर नूरैनी ने गोल दागा। भारत को अगले मिनट तीन पेनल्टी कार्नर मिले लेकिन एक पर भी गोल नहीं हो सका। तीसरा गोल लालरेम्सियामी ने किया जिसे सर्कल के भीतर कप्तान सुनीता से पास मिला था।आखिरी क्वार्टर में मलेशियाई टीम ने एक गोल दागा लेकिन बराबरी का गोल नहीं कर सकी।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.