बर्मिंघम में भारत की जीत का सपना टूटा, इंग्लैंड ने 31 रनों से हराया

बर्मिंघम.

इंग्लैंड ने टीम इंडिया को बर्मिंघम में खेले गए रोमांचक टेस्ट मैच में 31 रनों से मात दे दी है. इसी के साथ ही मेजबान टीम ने पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली है. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड की टीम अपनी पहली पारी में 287 रन बनाकर ऑलआउट हो गई.

जिसके जवाब में टीम इंडिया अपनी पहली पारी में 274 रन पर ढेर हो गई. इस तरह इंग्लैंड को पहली पारी के आधार पर 13 रन की बढ़त मिली. दूसरी पारी में इंग्लैंड ने 180 रन बनाए जिसके बाद टीम इंडिया को जीत के लिए 194 रनों का टारगेट मिला. टारगेट का पीछा करते हुए टीम इंडिया 162 रन पर ढेर हो गई और इंग्लैंड ने 31 रनों से मैच अपने नाम कर लिया.

भारत के लिए एक बार फिर कप्तान विराट कोहली ने 93 गेंदों में चार चौकों की मदद से 51 रनों की जुझारू पारी खेली लेकिन दूसरे छोर से उन्हें समर्थन नहीं मिला. भारत ने तीसरे दिन का अंत पांच विकेट के नुकसान पर 110 रनों के साथ किया था. चौथे दिन कप्तान और उनके साथ नाबाद लौटने वाले दिनेश कार्तिक (20) पर टीम को जीत दिलाने की जिम्मेदारी थी. जेम्स एंडरसन ने कार्तिक को दिन के पहले ओवर में ही पवेलियन भेज दिया.

बेन स्टोक्स ने 141 के कुल स्कोर पर कोहली को आउट कर इंग्लैंड की जीत लगभग तय कर दी. स्टोक्स ने हार्दिक पंड्या को 31 रनों के निजी स्कोर पर भारत की पारी समेट दी. इंग्लैंड के लिए दूसरी पारी में स्टोक्स ने चार विकेट लिए. एंडरसन और ब्रॉड को दो-दो सफलताएं मिलीं. सैम कुरेन और आदिल राशिद को एक-एक विकेट मिला.
-दूसरी पारी में टीम इंडिया के विकेट

मुरली विजय (6) और शिखर धवन (13) फिर से टीम को अच्छी शुरुआत देने में नाकाम रहे. स्टुअर्ट ब्रॉड (29 रन देकर दो) ने इन दोनों को आठ ओवर के अंदर पवेलियन भेज दिया था. शुरू में जीवनदान पाने वाले विजय एलबीडब्ल्यू आउट हुए जबकि धवन ने ढीला शॉट खेलकर विकेट के पीछे कैच दिया.

केएल राहुल (13) शुरू से ही बाहर जाती गेंदों से जूझ रहे थे. उन्होंने बेन स्टोक्स की गुडलेंथ गेंद पर जॉनी बेयरस्टॉ को आसान कैच दिया. अंजिक्य रहाणे (2) भी नहीं चल पाए. बेयरस्टॉ ने कुरेन की गेंद पर उनका नीचा रहता हुआ कैच लपका.

कोहली ने पहली पारी की तरह एक छोर संभाले रखा लेकिन इस बार बल्लेबाजी क्रम में बदलाव किया गया तथा अश्विन (13) को छठे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया. उन्होंने तीन चौके लगाए लेकिन जेम्स एंडरसन की खूबसूरत गेंद उनके बल्ले को चूमकर विकेटकीपर बेयरस्टॉ के दस्तानों में समा गई.

1
Back to top button