राजनीति

शत्रुघ्न सिन्हा ने फिर दिखाया मोदी सरकार को आईना, जानें अब क्या कहा

नई दिल्ली: बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने पंजाब की लोकसभा सीट गुरदासपुर पर हुए उपचुनाव में जीत पर कांग्रेस को बधाई दी और बीजेपी को आइना दिखाया है.

शत्रुघ्न सिन्हा ने एक के बाद एक ट्वीट करके बीजेपी पर सवाल दागे, जिसका जवाब उन्हें नहीं मिला. शत्रुघ्न ने सोमवार को ट्वीट किया कि जैसी उम्मीद थी, वैसा ही हुआ.

गुरदासपुर उपचुनाव में दो लाख वोटों से अपमानजनक हार मिली. हार की उम्मीद पहले से ही लगाई जा रही थी, क्योंकि पार्टी ने विनोद खन्ना के किसी नजदीकी को वोट नहीं दिया था.

शत्रुघ्न सिन्हा ने आगे लिखा कि पार्टी और पार्टी से जुड़े लोगों के लिए मेरा प्यार हमेशा है. मैं उनकी प्रशंसा करता हूं. मेरा यह अवलोकन पार्टी के आत्मनिरिक्षण के लिए है. हम अपनी हार को स्वीकार करते हैं और मैं सुनील जाखड़ को बड़ी जीत पर बधाई देता हूं.वे योग्य पिता के योग्य बेटे हैं.

सिन्हा ने कहा कि गुरदासपुर में कांग्रेस की जीत में नवजोत सिंह सिद्धू का साफ असर दिखा. यहां सिद्धू ने सच्ची खेल भावना का परिचय दिया है. पार्टी को नसीहत देते हुए एक अन्य ट्वीट में लिखा कि हम लोगों को अब वाकई आईना देखने की जरूरत है. दीवारों पर लिखी बातें देखिए और लोगों के मूड का अनुमान लगाइए.

इससे पहले उन्होंने ऐसे मुद्दे पर कटाक्ष किया है, जिस पर बीजेपी नेता चुप्पी साधे हुए हैं. जी हां, बात हो रही है बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह की. शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा है कि जय शाह के खिलाफ निष्पक्ष जांच होनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि यह साफ होना चाहिए कि अमित शाह के बेटे ने अपने कारोबार में राजनीतिक फायदा उठाया है या नहीं. एनडीटीवी से एक ख़ास मुलाकात में उन्होंने कहा कि जब जय शाह पर इतने गंभीर आरोप लग रहे हैं तो उसे दबाने की कोशिश क्यों की जा रही है, सच को आगे ही आना चाहिए.

जय शाह गुजरात के एक उद्यमी हैं और एक न्यूज पोर्टल ‘द वायर’ ने खुलासा किया है कि बीजेपी के सत्ता में आने के बाद जय शाह की कंपनी का टर्नओवर 16,000 गुना बढ़ा है. हालांकि जय शाह ने न्यूज पोर्टल के खिलाफ 100 करोड़ की मानहानि का मुकदमा दायर किया है.

बीजेपी के वरिष्ठ नेता शत्रुघ्न सिन्हा का कहना है कि अगर सच बोलना बग़ावत है तो वे बाग़ी हैं. सिन्हा पटना विश्वविद्यालय में प्रधानमंत्री के समारोह में नहीं बुलाए जाने से नाराज़ हैं.

बातचीत में उन्होंने कहा कि वे किसी का स्तुतिगान नहीं करेंगे और पार्टी को आईना दिखाने का काम करते रहेंगे क्योंकि देश पार्टी से बड़ा है. उन्‍होंने कहा, ‘मैं यशवंत सिंहा और अरुण शौरी का समर्थन करता हूं. हम पार्टी के अभिन्न हिस्से हैं.

 

Summary
Review Date
Reviewed Item
शत्रुघ्न सिन्हा
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.