राजनैतिक दलों और मीडिया प्रतिनिधियों को दी गयी मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन की जानकारी

मतदाता नाम जुड़वाने, विलोपित करने और सुधारने के लिए कर सकते हैं आवेदन

नारायणपुर: आगामी लोकसभा निर्वाचन के लिए कल शुक्रवार को नारायणपुर जिले के मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन हुआ। उप जिला निर्वाचन अधिकारी जी.एस.नाग ने आज राजनैतिक दलों और मीडिया प्रतिनिधियों की ली गई बैठक में जानकारी देते हुए बताया कि विधानसभा निर्वाचन के बाद प्रारंभिक प्रकाशन 26 दिसम्बर 2018 की स्थिति में नारायणपुर जिले, कोण्डागांव और बस्तर के 254 मतदान केन्द्रो में मतदाताओं की संख्या 1 लाख 76 हजार 30 थी, जिसमें पुरूष मतदाता 85426 और महिला मतदाता 90604 थे। उन्होंने बताया कि मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन बीते शुक्रवार 22 फरवरी 2019 की स्थिति में मतदाताओं की संख्या बढ़कर 1 लाख 78 हजार 958 हो गयी है। जिसमें 86699 पुरूष मतदाता और 92259 महिला मतदाता हैं।

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी पी.एस.एल्मा सरकारी कामकाज से मुख्यालय से प्रवास पर होने के कारण आज उप जिला निर्वाचन अधिकारी जी.एस.नाग ने राजनैतिक और मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा करते हुए बताया कि नारायणपुर जिले के 125 मतदान केन्द्रों में 26 दिसम्बर 2018 की स्थिति में 39557 पुरूष मतदाता थे और 42898 महिला मतदाता थी। इस प्रकार जिले में कुल 82455 मतदाता थे। अंतिम प्रकाशन सूची में पुरूष मतदाताओं की संख्या 40068 और महिला मतदाताओं की संख्या 43550 है। इस प्रकार जिले में कुल 83618 मतदाता सूचीबद्ध हैं।

नाग ने जानकारी देते हुए बताया कि जिले में नाम जोड़ने हेतु फार्म-6 के तहत कुल 1878 आवेदन प्राप्त हुए। वहीं नाम काटने हेतु फार्म-7 में 715 आवेदन प्राप्त हुए थे। इसी प्रकार मतदाता सूची में नाम सुधारने हेतु 149 आवेदन प्राप्त हुए थे और नाम स्थानांतरित करने हेतु फार्म 8ए के तहत् 135 आवेदन मिले थे। जिनका सावधानीपूर्वक निराकरण कर अंतिम सूची प्रकाशित की गयी। उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मतदाताओं कोे पंजीयन हेतु एक और अवसर दिया जा रहा है, जो शनिवार 2 मार्च और रविवार 3 मार्च को नारायणपुर जिले के प्रत्येक मतदान केन्द्र में विशेष अभियान (स्पेशल कैंप) आयोजित किया जायेगा।

जिसमें बूथ लेवल अधिकारी निर्वाचन नामावलियों के अंतिम प्रकाशन 2019 की प्रति, पूरक सूची-1 सहित फार्म 6,7,8, एवं 8क के साथ उपस्थित रहेंगे। इन शिविरों में पात्र मतदाता अपने नाम जोड़ने, विलोपित करने एवं नाम त्रुटि होने पर सुधार हेतु फार्म प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि मतदाताओं की सुविधा के लिए इन विशेष शिविरों में बूथ लेवल अधिकारियों द्वारा फार्म भरने में मदद की जायेगी। इस अवसर पर राजनैतिक दलों के प्रतिनिधि और इलेक्ट्रानिक और प्रिंट मीडिया के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Back to top button