बतौली में कृमिनाशक दवा खाने के बाद मासूम की मौत

अम्बिकापुर।

सरगुजा जिले के बतौली में कृमिनाशक दवा खाने के बाद एक दो वर्षीय बच्ची की मौत हो गई है। बताया जा रहा कि दवा खाने के बाद उसकी तबियत अचानक बिगड़ गई जिसे देखते हुए अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में रात में उसकी मौत हो गई।

बतौली के ग्राम गहिला निवासी सुनीता दास पति गणेश दास ने अपनी 2 वर्षीय बेटी आराधना दास व 4 वर्षीय बेटे अमन को कृमिनाशक दवा एलमेंडाजोल की खुराक गांव के टोंगरी पारा स्थित आंगनबाड़ी केंद्र में खिलाई थी। जिसके बाद सब घर आ गए थे.

लेकिन अचानक आराधना की तबियत बिगड़ने लगी और उसके मुंह से झाग निकलने लगा। जिसके बाद परिजन तुरंत आंगनबाड़ी केंद्र दौड़े लेकिन वहां आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने हाथ खड़े कर दिए व स्वास्थ्य केंद्र ले जाने की सलाह दी। इसके बाद बच्ची को शांतिपारा स्वास्थ्य केंद्र लाया गया जहां से मेडिकल कालेज रेफर कर दिया गया। जहां सोमवार की देर रात बच्ची की मौत हो गई।

परिजन क्रीमी नाशक दवा को मौत की वजह बता रहे हैं। वही बच्ची का इलाज कर रहे चिकित्सक के.पी विश्वकर्मा का कहना है की उसकी मौत कृमिनाशक दवा खाने से नही हुई है उसने कुछ और भी खाया होगा। पीएम के बाद स्थिति स्पष्ठ होगी, पुलिस ने मामले में मर्ग कायम कर लिया है।

Tags
Back to top button