सुदूर वनांचल क्षेत्रों का निरीक्षण कर कलेक्टर ने संबंधित अधिकारियों को दिए आवश्यक निर्देश

हिमांशु सिंह ठाकुर - ब्यूरो कवर्धा

कवर्धा: बोड़ला विकासखंड के सुदूर वनांचल क्षेत्रों के आंगनबाड़ी केन्द्रों, प्राथमिक शालाओं, स्वास्थ्य केन्द्रों, धान संग्रहण केन्द्र एवं निर्माणाधीन सड़कों का निरीक्षण कर कलेक्टर अवनीश कुमार शरण ने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए।

उन्होंने ग्रामीणों को विभिन्न योजनाओं के तहत मिलने वाली सुविधाओं-पेंशन, राशन, पेयजल, मजदूरी भुगतान आदि के बारे में पूछताछ की तथा उनकी मांगों एवं समस्याओं पर त्वरित कार्रवाई के निर्देश संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिए।

कलेक्टर ने जिला पंचायत के सीईओ कुंदन कुमार एवं जिला अधिकारियों के साथ गांवों का किया दौरा

कलेक्टर ने जिला पंचायत के सीईओ कुंदन कुमार एवं जिला अधिकारियों के साथ बोड़ला विकासखंड के घानीखुंटा, कोयलारझोरी, खारा, उसरवाही, रेंगाखार, झलमला एवं धवईपानी गांवों का दौरा किया। कलेक्टर ने उत्कृष्ट कार्य के लिए मीडिल स्कूल कोयलारझोरी के प्रधान पाठक बंशीलाल वर्मा, आंगनबाड़ी केन्द्र घानीखुंटा के कार्यकर्ता सरला ठाकरे और धवईपानी की महिला कोटवार देवकली झारिया को 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पर प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित करने को कहा।

उन्हांने घानीखुंटा के ग्रामीणों की मांग पर एक माह के भीतर बिजली का खंभा लगाने, दो दिन में सीमांकन करने, फरवरी के प्रथम सप्ताह में तीन माह का पेंशन एक साथ भुगतान करने तथा पुराने तालाब का गहरीकरण के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए।

आंगनबाड़ी केन्द्र एवं उपस्वास्थ्य केन्द्र का किया अवलोकन

उन्होंने घानीखुंटा आंगनबाड़ी केन्द्र की साफ-सफाई, कीचन, शौचालय, बच्चों की उपस्थिति आदि से काफी प्रभावित हुए और आंगनबाड़ी केन्द्र एवं कार्यकर्ता की तारीफ की। कलेक्टर ने कोयलारझोरी में प्राथमिक शाला, आंगनबाड़ी केन्द्र एवं उपस्वास्थ्य केन्द्र का अवलोकन किया।

उन्होंने तीसरी कक्षा के बच्चे से संदीप से ब्लेकबोर्ड पर गणित हल करवा कर बौद्धिक स्तर की जांच की, बच्चे द्वारा शीघ्रता से सही गुणा करने पर उसे शाबासी दी। उन्होंने स्मार्ट क्लास रूम का भी अवलोकर किया। कलेक्टर और सीईओ जिला पंचायत ने स्कूल में मध्यम भोजन कर भोजन की गुणवत्ता का भी जांच किया।

बिजली विभाग के अधिकारी को शीघ्र कनेक्शन जोड़ने के दिए निर्देश

कलेक्टर ने आंगनबाड़ी केन्द्र का निरीक्षण कर बच्चों की उपस्थिति आदि की जानकारी ली। उन्होंने आंगनबाड़ी का बिल भुगतान नहीं होने से बिजली कनेक्श्न कटने की जानकारी पर महिला एवं बाल विकास अधिकारी को बिल भुगतान करने और बिजली विभाग के अधिकारी को शीघ्र कनेक्शन जोड़ने के निर्देश दिए।

उन्होंने उप स्वास्थ्य केन्द्र में वॉल पेटिंग के जरिए स्वास्थ्य सुविधाओं, जननी सुरक्षा, टीकाकरण आदि की जानकरी प्रदर्शित करने के तथा वहां की साफ-सफाई एवं प्रबंधन से बेहद प्रभावित हुए और अपनी मोबाईल से वीडियो भी बनाया। उन्होने उप स्वास्थ्य केन्द्र की ग्रामीण स्वास्थ्य समन्वयक मथुरा मरकाम के साथ फोटो भी खिचवाया।

उन्होंने उप स्वास्थ्य केन्द्र में बेबी रूम को गरम रखने के लिए वार्मर मशीन लगाने के लिए अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को निर्देश दिए। कलेक्टर ने कोयलारझोरी में ग्रामीण की मांग पर नया हैंडपंप लगाने तथा ट्रांसफॉर्मर ठीक कराने के भी निर्देश दिए।

तहसीलदार को एक सप्ताह के भीतर कब्जा हटाने के दिए निर्देश

कलेक्टर ने ग्राम खारा में महिलाओं द्वार धार्मिक स्थल- शीतला चौक पर कब्जा करने की शिकायत पर तहसीलदार को एक सप्ताह के भीतर कब्जा हटाने के निर्देश दिए। उन्होंने कांतिबाई झारिया की मांग तथा ग्रामीणों की अनुशंसा पर मीडिल स्कूल में उसे फिर से रसोईया के पद पर रखने के लिए प्रधान पाठक को निर्देश दिए।

उन्होंने धान उपार्जन केन्द्र उसरवाही का निरीक्षण किया और किसानों से चर्चा की तथा खाद्य विभाग के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। कलेक्टर ने निर्माणाधीन सड़कों-घानीखुंटा से खारा, साल्हेवारा से चिल्फी और रेंगाखार से झलमला का जगह-जगह रूक कर कार्य की प्रगति एवं गुणवत्ता का अवलोकन किया और लोक निर्माण विभाग, सड़क विकास निगम एवं प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अधिकारियों को बरसात के पहले निर्माण कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए।

राजस्व से संबंधित समस्याओं का निराकरण करने के दिए निर्देश

रेंगाखार में ग्रामीणों द्वारा राजस्व से संबंधित विभिन्न प्रकरणों के निराकरण लंबित होने की जानकारी पर कलेक्टर ने रेंगाखार तहसील के प्रभारी तहसीलदार वर्मा को सप्ताह में सिर्फ एक दिन नहीं बल्कि नियमित रूप से रेंगाखार में रहकर ग्रामीणों की राजस्व से संबंधित समस्याओं का निराकरण करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही जनपद सीईओ को भी सप्ताह में एक दिन रेंगाखार में उपस्थित होकर सामाजिक सुरक्षा कार्यक्रम के तहत पेंशन प्रकरणों का निराकरण करने के निर्देश दिए।

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र झलमला का किया निरीक्षण

कलेक्टर ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र झलमला का निरीक्षण कर वहां के चिकित्सकों एवं स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को गर्भवती महिलाओं का सर्वे, पंजीयन, टीकाकरण सहित बाईक एम्बुलेंश का समुचित उपयोग करने के निर्देश दिए। उन्होंने झलमला में निर्माणाधीन विद्युत उप केन्द्र का निरीक्षण किया और संबंधित अधिकारी को आवश्यक निर्देश दिए।

कलेक्टर ने चिल्फी से धवईपानी राष्ट्रीय राजमार्ग के चौड़ीकरण का जायजा लिया और भूमि अधिग्रहण एवं मुआवजा वितरण के संबंध में एनएच के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरा अनुविभागीय अधिकरी राजस्व बोडला अभिषेक अग्रवाल, कार्यपालन अभियंता लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी आर.के. धनंजय, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास एल.आर. कच्छप सहित अनेक अधिकारी उपस्थित थे।

advt
Back to top button