राष्ट्रीय

इंस्पेक्टर सुबोध की बहन ने पुलिस पर लगाया आरोप, बोली- हत्या में पुलिस भी शामिल

मेरे भाई की हत्या अखलाक केस की जांच करने के चलते की गई है.

बुलंदशहर। इंस्पेक्टर सुबोध की बहन ने पुलिस पर बेहद संगीन आरोप लगाते हुए कहा कि मेरे भाई की हत्या अखलाक केस की जांच करने के चलते की गई है. उनकी हत्या में पुलिस भी शामिल है.

इंस्पेक्टर की बहन ने गंभीर सवाल उठाते हुए कहा कि मेरे भाई को अकेला क्यों छोड़ा गया? उन्होंने सवाल किया कि भाई के साथ मौजूद दरोगा और ड्राइवर भाई को अकेला छोड़कर कहां चले गए थे?

योगी खुद गोरक्षा करके दिखाएं

इंस्पेक्टर की बहन ने कहा कि गोरक्षा के नाम पर मुख्यमंत्री योगी सिर्फ बातें कर रहे हैं. वे खुद क्यों नहीं गोरक्षा करके दिखाते हैं? उन्होंने मांग की कि मेरे भाई को शहीद का दर्जा दिया जाए.

एटा के पैतृक गांव में उनका शहीद स्मारक बनाया जाए. सुबोध की बहन ने कहा कि हमारे पिता भी ऐसे ही ड्यूटी करने के दौरान गोली लगने से शहीद हुए थे. हम लोग बहुत बहादुर हैं. उन्होंने सीएम योगी से मांग की है कि वे उनके परिवार से आकर मिलें.

पुलिस ने मिलकर भाई को मरवाया

उन्होंने सीधा आरोप लगाया कि अखलाक मामले की जांच करने के चलते उनके भाई को मारा गया है. ये पूरी साजिश है.

उन्होंने सवाल उठाए कि मेरा भाई पुलिस जीप में अकेला क्यों था. उन्होंने पूछा कि उस समय साथ में मौजूद दरोगा और ड्राइवर कहां चले गए थे. उन्होंने आरोप लगाया कि मेरे भाई की हत्या में पुलिस भी मिली हुई थी. उन्होंने आरोप लगाया कि मेरे भाई को पुलिस ने मिलकर मरवाया है.

बेटों ने कहा- अब किसके पापा की जान जाएगी?

बुलंदशहर में शहीद हुए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार के बड़े बेटे श्रेय ने कहा कि पापा चाहते थे कि मैं यूपीएससी की तैयारी करूं. पापा जॉब के चलते बर्थडे में भी घर नहीं आते थे.

उन्हें धमकियां मिलतीं थीं. श्रेय ने कहा कि पिता चाहते थे कि मेरा छोटा भाई अभिषेक अच्छा वकील बने. उसका अभी बोर्ड का एग्जाम है.

वहीं, अभिषेक ने कहा कि यहां हिंदू-मुस्लिम सिख सभी एक हैं. हिंदू-मुस्लिम विवाद में आज मेरे पापा की जान गई. मैं पूछना चाहता हूं कि अब इस विवाद में किसके पापा की जान जाएगी.

Summary
Review Date
Reviewed Item
इंस्पेक्टर सुबोध की बहन ने पुलिस पर लगाया आरोप, बोली- हत्या में पुलिस भी शामिल
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags