नैनी कोतवाली के चकरघुनाथ में इंस्पेक्टर के बेटे को सगी बहन ने मारी गोली

गोली लगने के बाद गंभीर रूप से घायल युवक को आनन फानन में एसआरएन अस्पताल में भर्ती कराया गया

नैनी कोतवाली: उत्तर प्रदेश के नैनी कोतवाली के चकरघुनाथ के रहने वाले सभाजीत सिंह आजमगढ़ जिले में इंस्पेक्टर पद पर तैनात हैं। घर पर उनकी पत्नी सुभद्रा देवी व इकलौता पुत्र अमरेंद्र सिंह (16) और पुत्री शैलजा रहती हैं। अमरेंद्र सिंह जीआईसी में कक्षा 11 में पढ़ता है।

मंगलवार लगभग 6:45 बजे घर पर सभाजीत की पत्नी सुभद्रा देवी छत पर गमलों में पानी देने के लिए गई हुई थीं और उनकी बेटी और बेटा नीचे मौजूद थे। इसी समय गोली के तड़तड़ाने की आवाज आई। इससे हड़कंप मच गया।

मां दौड़ते हुए नीचे पहुंची और शोरगुल सुनकर मुहल्ले के लोग भी पहुंच गए। अमरेंद्र खून से लथपथ अचेतावस्था में पड़ा था। तत्काल उसे एसआरएन अस्पताल में भर्ती कराया गया। उसे तीन गोली लगी थी। सूचना पाकर एसपी और सीओ सहित कोतवाली पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई.

पूछताछ में बहन ने बताया कि तीन की संख्या में बदमाश मकान की चहारदीवारी फांदकर घर में दाखिल हुए थे और मकान के पीछे वाले कमरे में मौजूद अमरेंद्र को गोली मारकर भाग गए। पुलिस ने मुहल्ले सहित शहर में भी जगह-जगह छानबीन शुरू कर दी, लेकिन बदमाशों का पता नहीं चला। बातचीत के दौरान ही शैलजा अपनी बातों में ही उलझने लगी। जिससे पुलिस को शक हो गया कि घटना घर के अंदर ही हुई है। बाहर से कोई बदमाश घर में दाखिल नहीं हुआ है।

लड़की ने बताया था कि बदमाश गोली मारने के बाद जेवर भी लूटकर ले गए हैं। कड़ाई से पूछताछ करने पर पता चला कि किसी बदमाश ने नहीं बल्कि लड़की ने ही अपने सगे भाई अमरेंद्र को गोली मारी है।

खोजबीन के दौरान घर में ही घटना में प्रयुक्त पिस्टल बरामद हो गई। जिन जेवरों के लूटे जाने की बात की जा रही थी वह भी घर के अंदर मिल गए। महिला पुलिस ने आरोपी लड़की शैलजा को हिरासत में लेकर मामले में पूछताछ कर रही है।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button