लुटेरों के बजाए शिकायत करने पंहुचे व्यक्ति को ही भेज दिया जेल, वह थानेदार साहब

ब्यूरो चीफ : विपुल मिश्रा

रायपुर/ प्रदेश में पुलिस की छवि सुधार ने डीजीपी लाख कोशिश करले पर लगता है कुछ पुलिसकर्मियों सुधारना बहुत मुश्किल है। आपको बता दें एक ताज़े मामले में रायपुर पुलिस का नया कारनामा उजागर हुआ है जिसमे ट्रक मालिक अपने साथ हुई लूट की घटना की शिकायत करने थाने पहुंचा पर उसकी रिपोर्ट लिखने के बजाए उल्टा पुलिस ने उसको ही आरोपी बनाकर जेल भेज दिया।

लेकिन जेल से वापस आने पर सारी बात एसएसपी रायपुर को बताई तो फटकार के बाद शातिर लुटेरो के खिलाफ 5 दिन बाद एफआईआर दर्जकर उनको गिरफ्तार कर लिया है….दरअसल पुरा मामला शहर के कबीर नगर थाना इलाके का है जहां कवर्धा के नवागांव निवासी ट्रक मालिक वली रज़ा 3 जनवरी को अपने ट्रक में गुड लेकर रायपुर रिंगरोड स्थित एक गौदाम पहुंचा था जहां गौदाम में ही काम करने वाले चार मजदुरो ने आधा माल उतारने को लेकर देर रात विवाद किया और ट्रक चालक वली रज़ा की बेदम पिटाई कर उसके पास से 20 हजार रूपये लुट लिये, ये पुरी घटना गौदाम में लगे सीसीटीवी में कैद हो गई।

वही सुबह होने पर ट्रक मालिक अपने साथ हुई लुट की रिपोर्ट लिखाने कबीर नगर थाने पहुंचा तो थाने में मौजुद थानेदार साहब ने चारो मजदुरो को थाने बुलवाया और ट्रक मालिक के साथ मारपीट कर लुट के 20 हजार रूपयो के बारे में कड़ाई से पुछताछ की तो सारे पैसे चारो युवको के पास से बरामद हुए उसके बावाजुद चारो आरोपियो के खिलाफ थानेदार साहब ने कोई मामला दर्ज ही नही किया।

इस मामले में ट्रक मालिक का यह तक आरोप है कि वो पुरे पैसे थानेदार साहब ने रख लिये,ट्रक साथ ही उल्टा आरोपी मजदुरो से समझौता करने का दबाव बनाते हुए लड़की के मामले में फंसाकर जेल भेजने की धमकी देने लगे,इसबीच शहर के विधायक समेत रसुखदार लोगो ने थानेदार साहब से सच बात जानने की गुहार लगाई तो भी थानेदार साहब का दिल नही पसीजा और देर शाम ट्रक मालिक ने कोई समझौता नही किया तो अपने विशेषाधिकार का गलत प्रयोग करते हुए उसको प्रतिबंधित धारा में एक दिन जेल भेज दिया।

इतना सब होने के बाद भी ट्रक मालिक ने हार नही मानी और जेल से वापस आने के बाद अपने साथ हुई अपबीती और थानेदार साहब की करतुत शहर के एसएसपी को बताई तो एसएसपी ने इलाके की महिला सीएसपी को पुरे मामले का संज्ञान लेते हुए मामले की रिपोर्ट देने की बात कही जिसके बाद आनन फानन में देर रात चारो मजदुर आरोपियो के खिलाफ लुट का मामला दर्जकर गिरफ्तार कर लिया,गौरतलब है कि जब रक्षक ही भक्षक बन जाये तो निश्चित तौर पर समाज में इस तरह के हालात देखने को मिलते है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button