छत्तीसगढ़

मरीजों को निर्धारित पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराने के निर्देश

राजनांदगांव : अब गंंडई सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में जन्म लेने वाले शिशुओं का जन्म प्रमाण पत्र उसी दिन मिल जायेगा। ऐसे ही मरीज की मृत्यु होने पर पोस्टमार्टम के बाद मृत्यु प्रमाण पत्र भी तत्काल परिजनों को स्वास्थ्य केन्द्र प्रबंधन द्वारा दिया जायेगा। कलेक्टर श्री भीम सिंह ने कल दोपहर अचानक गंडई सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचकर औचक निरीक्षण किया और अस्पताल की व्यवस्थाएं देखी। उन्होंने अस्पताल के मेडिकल ऑफिसर डॉ. कमलेश जंघेल की अनुपस्थिति पर गहरी नाराजगी जताई और उचित कार्रवाई के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दूरभाष पर निर्देशित किया। कलेक्टर ने प्रशिक्षु सहायक कलेक्टर डॉ. रवि मित्तल के साथ सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के सभी वार्र्डाे, ओपीडी स्थलों और काउंटरों का भी निरीक्षण किया। कलेक्टर ने अस्पताल में रखी दवाओं का भी निरीक्षण कर उनके स्टॉक आदि की जानकारी उपस्थित कर्मचारियों से ली। श्री भीम सिंह ने एन्टीरेबीज और सांप के काटने पर दिये जाने वाले एन्टीवेनम इंजेक्शनों की उपलब्धता की भी जानकारी उपस्थित कर्मचारी से ली।

शौचालयों में गंदगी पर नाराजगी जताई, नियमित सफाई के दिये निर्देश
कलेक्टर ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में महिला एवं पुरूषों के लिए बने शौचालयों में गंदगी पर उपस्थित सहायक श्री प्रमोद सोनी को नाराजगी व्यक्त करते हुए कम से कम दो बार सफाई कराने के निर्देश दिये। श्री भीम सिंह ने शौचालयों के वॉसबेसिनों में नीचे पाईप लगवाने और नलों को बदलवाने के साथ-साथ नियमित सफाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने मरीजों के साथ आने वाले लोगों को अस्पताल परिसर में यहां-वहां थूकने से रोकने और नहीं मानने पर जुर्माना लगाने के लिए भी सहायक मेडिकल अधिकारी को निर्देशित किया।

कलेक्टर ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में आस-पास बिखरे पड़े मेडिकल अवशिष्ट का समुचित निपटान करने के निर्देश उपस्थित अधिकारियों को दिये। उन्होंने सहायक अधिकारी श्री सोनी को निर्देशित किया कि मरीजों के लिए उपयोग किये गये इंजेक्शनों की शीशीयां, नीडिल और दवाओं के पैकेट तथा उपयोग की गई खराब पट्टी आदि को अस्पताल परिसर में निर्धारित स्थान पर ही इक्कठा किया जाए ताकि मेडिकल वेस्ट चीजों को नष्ट करने में आसानी हो। उन्होंने 15 दिनों में सामुदायिक भवन परिसर को साफ-सुथरा कर सूचित करने के निर्देश सहायक मेडिकल अधिकारी को दिये।

प्रसव उपरांत अस्पताल में भर्ती महिलाओं को मिलेगा पौष्टिक भोजन
कलेक्टर ने अस्पताल के महिला वार्ड में भर्ती मरीजों से भी बातचीत की और उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। कलेक्टर ने सहायक मेडिकल अधिकारी श्री सोनी से प्रसव के बाद भर्ती महिलाओं को भोजन उपलब्ध कराने के बारे में जानकारी ली। श्री सोनी ने बताया कि ऐसी महिलाओं को 100 रूपए प्रति समय के हिसाब से भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। कलेक्टर श्री भीम सिंह ने इस पर गहरी नाराजगी जताते हुए श्री सोनी को ऐसी सभी भर्ती महिलाओं को 160 रूपए प्रति समय के हिसाब से निर्धारित मात्रा में पूरा पौष्टिक भोजन देने के निर्देश दिये। उन्होंने इस पर गंभीर नाराजगी व्यक्त करते हुए कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दूरभाष पर दिये। कलेक्टर ने दोनों वार्डों में मरीजों के मनोरंजन के लिए टीवी लगाने और भोजन में उन्हें अंडा, दूध, फल आदि भी उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। उन्होंने अस्पताल भवन में कई स्थानों पर पानी टपकने को गंभीरता से लेते हुए उसे ठीक कराने के निर्देश उपस्थित अधिकारियों को दिये। कलेक्टर ने उपस्थित सहायक मेडिकल अधिकारी को नगर पंचायत गंडई के सभी स्कूली छात्र-छात्राओं का नियमित स्वास्थ्य परीक्षण करने के भी निर्देश दिये।

Back to top button