छत्तीसगढ़

प्रधानमंत्री युवा योजना के क्रियान्वयन के लिए कलेक्टर सिंह ने दिये निर्देश

राजनांदगांव : स्किल डेवलपमेंट के बाद अब युवाओं को उद्यमिता की ओर ले जाने की तैयारी भी शासन द्वारा की जा रही है। प्रधानमंत्री युवा योजना के अंतर्गत उद्यमिता की राह में आगे बढऩे वाले युवाओं के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम जल्द ही राजनांदगांव में आरंभ हो सकेगा। कलेक्टर ने इसके लिए उचित आधारभूत सुविधा वाले महाविद्यालय का चिन्हांकन करने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। महाविद्यालय के चिन्हांकन के पश्चात जल्द ही उद्यमिता के क्षेत्र में जाने के इच्छुक युवाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण में युवाओं को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से अपने-अपने क्षेत्र में सफल उद्यमियों से चर्चा भी कराई जाएगी।

जिस क्षेत्र में युवा उद्यम करना चाहता है उस क्षेत्र का खास प्रशिक्षण युवाओं को दिया जाएगा। इसके साथ ही युवाओं को उद्यमिता के क्षेत्र में आगे बढ़ाने, उनका मार्गदर्शन करने मेंटर की सुविधा भी होगी, मेंटर युवाओं को खास उद्यम की बारीकियों के संबंध में जानकारी देंगे। कलेक्टर ने समीक्षा बैठक में श्रम विभाग की योजनाओं की विशेष रूप से समीक्षा की। उन्होंने कहा कि श्रम विभाग की योजनाओं से अधिकाधिक हितग्राहियों को जोड़ा जाए। इसके लिए ग्रामीण क्षेत्रों में सचिव खास अभियान चलाएं। उन्होंने पंडित दीनदयाल उपाध्याय अन्न सहायता योजना के नये केंद्र आरंभ करने के निर्देश भी दिए।

उन्होंने कहा कि निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल, दिग्विजय स्टेडियम के पास यह केंद्र खोलने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि श्रम विभाग की योजनाओं से जुडऩे से हितग्राही व्यापक लाभ उठा सकते हैं। उन्होंने कहा कि श्रम विभाग में पूर्व में जो लोग पंजीकृत हैं उन्हें विभागीय योजनाओं का लाभ देने मेगा कैंप का आयोजन शीघ्र ही किया जाएगा। कलेक्टर ने महिला एवं बाल विकास विभाग की योजनाओं की समीक्षा भी की। उन्होंने कहा कि ओडीएफ गाँवों की तरह ही कुपोषित मुक्त गाँवों के निर्माण की दिशा में तेजी से कार्य किया जाना है।

उन्होंने कहा कि सभी आंगनबाड़ी में कुपोषित बच्चों को उपयुक्त आहार देने के लिए नियमित मानीटरिंग करें, साथ ही व्यापक जनभागीदारी के माध्यम से कुपोषण मुक्ति की दिशा में काम करें। उन्होंने उज्ज्वला योजना की भी विशेष रूप से समीक्षा की। कलेक्टर ने कहा कि उज्ज्वला योजना के सिलेंडरों की रिफिलिंग के लिए भी ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को जागरूक करें। साथ ही एसडीएम एवं फूड आफिसर यह भी देखें कि ग्राम पंचायत में जिस तिथि में रिफिलिंग होनी है वहाँ कैंप लगा है या नहीं।

कलेक्टर ने बैठक मे जिले में चल रही महत्वपूर्ण सड़कों के निर्माण की समीक्षा भी की एवं इन्हें समय पर पूरा करने के निर्देश दिए। बैठक में अपर कलेक्टर जे.के. धु्रव, ओंकार यदु, डीएफओ दिलराज प्रभाकर, मोहला एसडीएम प्रभात मलिक सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Summary
Review Date
Reviewed Item
प्रधानमंत्री युवा योजना के क्रियान्वयन के लिए कलेक्टर सिंह ने दिये निर्देश
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *