रिंग रोड एवं राजमार्गों के निर्माण में गति लाने व चौक-चौराहों को दूरुस्थ करने कलेक्टर ने दिए निर्देश

रोशन सोनी

अम्बिकापुर।

कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर ने आज जिला कार्यालय के सभाकक्ष में छत्तीसगढ़ राज्य सड़क विकास निगम एवं राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों एवं ठेकेदारों की बैठक लेकर अम्बिकापुर के रिंग रोड निर्माण तथा अम्बिकापुर-बिलासपुर एवं अम्बिकापुर-पत्थलगांव सड़क के निर्माण में गति लाने के निर्देश दिए।

उन्होंने क्रियान्वयन एजेंसी से कहा कि सड़क निर्माण कार्या में अधिक मशीनरी का उपयोग सुनिश्चित करते हुए सड़क निर्माण कार्यो को शीघ्रता से पूर्ण करायें।

डॉ.मित्तर ने रिंग रोड निर्माण की समीक्षा करते हुए कहा कि अम्बिकापुर के चौक-चौराहों पर आवश्यक निर्माण सुनिश्चित करें, ताकि लोगों को असुविधाओं का सामना न करना पड़े।

उन्होंने रिंग रोड के एक ओर बने सड़क के पीक्यूसी हो जाने तथा थोड़ी दूरी के अंतराल से पुनः पीक्यूसी कार्य पूर्ण वाले सड़क को जोड़ने के निर्देश दिए हैं।

रिंग रोड के पीक्यूसी कार्यपूर्ण होने तथा थोड़ी दूरी तक गैप होने पर वाहन चालकों को असुविधाओं का सामना करना पड़ता है, जिसे दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर ने सड़क विकास निगम के कार्यपालन अभियंता श्री एम.एस ध्रुव को तत्काल सड़कों को जोड़ने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने स्पष्ट किया है कि सीजीआरडीसी के द्वारा सड़कां के किनारे खोदे गये गढ्ढे के कारण होने वाली दुर्घटना के लिए कार्यपालन अभियंता एवं ठेकेदार जिम्मेदार होंगे।

उन्होंने लरंगसाय चौक एवं मिशन चौक स्थित पेड़ों को काटने के लिए वन विभाग से तत्काल समन्वय कर पेड़ कटवाने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने चौक पर स्थित मूर्तियों को शिफ्ट करने के लिए अनुविभागीय राजस्व अधिकारी से समन्वय करने कहा है। उन्होंने बताया कि चौराहों पर पीपीपी मॉडल से ट्रेफिक सिग्नल लगाए जाएंगे।

चौराहों पर लगाए गए सी.सी. टी.व्ही. कैमरों को पुलिस विभाग के समन्वय से शिफ्टिंग किया जाएगा। कलेक्टर ने 15 दिवस के भीतर सभी चौराहों पर आवश्यक निर्माण कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए।

भारत माता चौंक से जीवन ज्योति हॉस्पिटल तक की दूसरी ओर के रिंग रोड को भी शीघ्र पूर्ण कराने के निर्देश दिए गए हैं। डॉ. मित्तर ने सीजीआरडीसी के कार्यपालन अभियंता को प्रति दिवस सड़क निर्माण कार्यो की प्रगति का प्रतिवेदन प्रस्तुत करने निर्देशित किया है।

डॉ. सारांश मित्तर ने अम्बिकापुर से बिलासपुर एवं अम्बिकापुर से पत्थलगांव राष्ट्रीय राजमार्ग के सड़क निर्माण कार्य की समीक्षा करते हुए कार्यपालन अभियंता श्री बी.के.पटोरिया को मशीनरी बढ़ाकर कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने अटेम नदी से उदयपुर तक 17.8 किलोमीटर की सड़क के चौड़ीकरण कार्य को शीघ्र पूर्ण करने निर्देशित किया है। उन्होंने बताया कि लगभग 7 किलोमीटर में सड़क चौड़ीकरण का कार्य पूर्ण किया जा चुका है।

उन्होंने डांडगांव तक की सड़क का सबग्रेड एवं जीएसबी कार्य 5 जनवरी तक पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं। इसी प्रकार अम्बिकापुर से लखनपुर तक लगभग 19 किलोमीटर सड़क चौड़ीकरण कार्य की समीक्षा करते हुए जनपद पंचायत लखनपुर से लहपटरा तक 4.8 किलोमीटर सड़क का पीक्यूसी कार्य शीघ्र पूर्ण करने कहा है।

कलेक्टर ने सड़क चौड़ीकरण के दौरान वर्तमान में उपयोग किए जा रहे सड़कों की आवश्यक मरम्मत कराने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने अम्बिकापुर से पत्थलगांव तक सड़क निर्माण कार्य की समीक्षा करते हुए क्रियान्वयन एजेंसी से कहा कि पेड़ों को कटवाने के लिए वन विभाग तथा विद्युत पोल शिफ्टिंग के लिए विद्युत विभाग के अधिकारियों से समन्वय करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने बताया कि सिलसिला ग्राम से बतौली तक लगभग 1.8 किलोमीटर की सड़क के चौड़ीकरण में जीएसबी का कार्य पूर्ण किया जा चुका है।

उन्होंने रघुनाथपुर से सुआरपारा बतौली तक लगभग 14 किलोमीटर की सड़क का निर्माण 20 जनवरी तक पूर्ण कराने के निर्देश दिए हैं।

बतौली से शांतिपारा तक के सड़क की खराब स्थिति को दृष्टिगत रखकर कलेक्टर ने आवश्यकतानुसार पैच रिपेयरिंग का कार्य शीघ्र पूर्ण कराने के निर्देश दिए हैं।

बैठक में वनमण्डलाधिकारी प्रियंका पाण्डेय, जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी नम्रता गांधी, अपर कलेक्टर चन्द्रकांता ध्रुव, नगर निगम की आयुक्त सूर्य किरण तिवारी, अनुविभागीय दण्डाधिकारी अजय त्रिपाठी एवं प्रभाकर पाण्डेय तथा संबंधित विभाग के अधिकारी एवं ठेकेदार उपस्थित थे।

new jindal advt tree advt
Back to top button