खुफिया एजेंसियों ने दिल्ली, मुंबई और गोवा में जताई आतंकी हमले की आशंका

नई दिल्ली। खुफिया एजेंसियों ने गोवा, मुंबई और दिल्ली में अलकायदा और आईएस के आतंकियों द्वारा हमले की आशंका जताई है। सूत्रों के अनुसार, खुफिया एजेंसियों ने बताया है कि न्यूजीलैंड हमले का बदला लेने के यह आतंकी हमला हो सकता है। इसे लेकर चार दिनों के अंदर दो इनपुट मिले हैं। इनमें कहा गया है कि भारत में स्थित यहूदी स्थलों को निशाना बनाया जा सकता है।

बताया जा रहा है कि आतंकी हमला करने के लिए गाड़ी या चाकू का इस्तेमाल कर सकते हैं। खुफिया एजेंसियों ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि मुंबई में इजरायली दूतावास, महावाणिज्यिक दूतावास और छाबड़ हाऊस की सुरक्षा और निगरानी तत्काल बढ़ाई जाए। पहला इनपुट 20 मार्च को दिया गया था। इसमें कहा गया था कि न्यूजीलैंड में हुए हमले का बदला लेने के लिए आईएस और उससे हमदर्द योजना बना रहे हैं।

यह हमला न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में हुए गोलीबारी में 50 लोगों के मौत का बदला लेने के लिए किया जा सकता है। बताते चलें कि इस हमले को 29 साल के ऑस्ट्रेलियाई मूल के नागरिक ब्रैंटन टैरेंट ने अंजाम दिया था। उसे बाद में गिरफ्तार कर लिया गया था।

बताते चलें कि खुफिया एजेंसियों को कई सूत्रों से ऐसे हमले का इनपुट मिला है, जिसके बाद सुरक्षा बढ़ाने की सिफारिश की गई है। दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि जानकारी मिलने के बाद पूजा स्थलों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

वहीं, 23 मार्च को मिले इनपुट में कहा गया है कि भारत में यहूदी रिहायशी ठिकानों पर अल-कायदा हमले की योजना बना रहा है। एजेंसियों को मिली जानकारी के अनुसार, यह हमला गैर-पारंपरिक हथियारों से किया जाएगा। अकेले हमले में चाकू, कार या ट्रक का इस्तेमाल किया जा सकता है।

1
Back to top button