राष्ट्रीय

International Women’s Day 2019 : ये है भारतीय महिला क्रिकेट की ‘सुपरस्टार’

नई दिल्ली : आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Womens Day 2019) है और हर कोई महिलाओं को अपने अपने​ हिसाब से सलाम कर रहा है। हम भारतीय महिला क्रिकेट की पांच सुपरस्टार खिलाड़ियों से आपको रूबरू करा रहे हैं जिन्होंने अपने खेल से भारतीय क्रिकेट को नई बुलंदियों पर पहुंचाया है।

मिताली राज
मिताली राज
मिताली राज
भारतीय महिला वनडे क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज का जन्म 3 दिसंबर 1982 को हुआ था। मिताली को महिला क्रिकेट का सचिन तेंदुलकर भी माना जाता है। मिताली महिलाओं के अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे अधिक रन बनाने वाली और महिला वनडे इंटरनेशनल में 6,000 से ज्यादा रन बनाने वाली एकमात्र महिला क्रिकेटर हैं। जून 2018 में महिला टी20 एशिया कप के दौरान वह टी20 इंटरनेशनल में 2000 रन बनाने वाली भारत की (तो पुरुष या महिला) पहली खिलाड़ी बनी और 2000 टी20 इंटरनेशनल रन तक पहुँचने वाली पहली महिला क्रिकेटर भी बनी। मिताली राज साल 2003 में अर्जुन पुरस्कार जबकि 2015 में भारत का चौथा सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्मश्री से सम्मानित हो चुकी है।

स्मृति मंधाना
स्मृति मंधाना
भारतीय महिला क्रिकेटर स्मृति मंधाना का जन्म 18 जुलाई 1996 को हुआ था। मंधाना को साल 20198 में ICC द्वारा ODI प्लेयर ऑफ द ईयर भी चुना गया था। स्मृति मंधाना ने फरवरी 2019 में न्यूजीलैंड के खिलाफ महज 24 गेंदों में महिला टी20 इंटरनेशनल में भारत के लिए सबसे तेज अर्धशतक बनाया। मंधाना को फरवरी 2019 में इंग्लैंड के खिलाफ तीन मैचों की महिला टी20 के लिए टीम का कप्तान बनाया गया। वह भारत के लिए सबसे कम उम्र की टी20I कप्तान बनीं जब उन्होंने गुवाहाटी में पहले T20I में इंग्लैंड के खिलाफ महिला टीम का नेतृत्व किया।

हरमनप्रीत कौर
हरमनप्रीत कौर
हरमनप्रीत कौर
भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर का जन्म 8 मार्च 1989 को हुआ था। वह भारतीय महिला क्रिकेट टीम के लिए एक ऑलराउंडर के रूप में खेलती हैं और उन्हें युवा मामले और खेल मंत्रालय द्वारा वर्ष 2017 में क्रिकेट के लिए प्रतिष्ठित अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया। हरमन नवंबर 2018 में महिला टी20 अंतर्राष्ट्रीय (WT20I) मैच में शतक बनाने वाली भारत की पहली महिला बनीं। जून 2016 में वह विदेशी टी20 फ्रैंचाइज़ी में शामिल होने वाली पहली भारतीय क्रिकेटर बनी। महिलाओं की बिग बैश लीग चैंपियन सिडनी थंडर ने 2016-17 सत्र के लिए उन्हें साइन किया था।

झूलन गोस्वामी
झूलन गोस्वामी

झूलन गोस्वामी
महिला क्रिकेट टीम की पूर्व कप्तान और तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी का जन्म 25 नवंबर 1982 को पश्चिम बंगाल में हुआ था। उन्होंने अगस्त 2018 में महिला टी20 इंटरनेशनल से अपनी रिटायर्मेंट की घोषणा की। उन्होंने 2007 का ICC महिला खिलाड़ी और 2011 में सर्वश्रेष्ठ महिला क्रिकेटर के लिए M।A चिदंबरम ट्रॉफी जीती। झूलन महिला वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे अधिक विकेट लेने वाली गेंदबाज हैं। फरवरी 2018 में वह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ महिला वनडे क्रिकेट में 200 विकेट लेने वाली पहली गेंदबाज बनी। झूलन गोस्वामी 2010 में अर्जुन पुरस्कार जबकि 2012 में भारत का चौथा सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्म श्री से सम्मानित हो चुकी है।

अंजुम चोपड़ा
अंजुम चोपड़ा
अंजुम चोपड़ा
भारतीय महिला क्रिकेट टीम का पूर्व कप्तान अंजुम चोपड़ा का जन्म 20 मई 1977 को हुआ था। अंजुम ने जब पहली बार क्रिकेट मैदान पर कदम रखा, तब वह महज 9 साल की थी। अंजुम ने एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय में 17 साल की उम्र में 12 फरवरी 1995 को न्यूजीलैंड के खिलाफ क्राइस्टचर्च में डेब्यू किया था। अंजुम बाएं हाथ की बैट्समैन हैं और राइट-आर्म मीडियम-फास्ट बॉलिंग भी करती हैं। उन्होंने भारत के लिए 12 टेस्ट और 116 एकदिवसीय मैच खेले हैं। अंजुम चोपड़ा 2007 में अर्जुन पुरस्कार जबकि 2014 में भारत का चौथा सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्म श्री से सम्मानित हो चुकी है। अंजुम चोपड़ा भारत के लिए एकदिवसीय शतक बनाने वाली पहली खिलाड़ी है।

Tags
Back to top button
%d bloggers like this: