राष्ट्रीय

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर ‘‘आओ छू लें आकाश‘‘ विषय पर संगोष्ठी सम्पन्न

अम्बिकापुर : अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर आज जिला पंचायत की अध्यक्ष फुलेश्वरी सिंह के मुख्य आतिथ्य में ‘‘आओ छू लें आकाश‘‘ विषय पर जिला स्तरीय संगोष्ठी का आयोजन लाईव्हलीहुड कॉलेज अम्बिकापुर में किया गया।

इन संगोष्ठी में भाग लेते हुए फुलेश्वरी सिंह ने कहा कि महिलाएं दो-दो कुल का नाम रोशन करती हैं।

उन्होंने समाज में महिलाओं की भूमिका को अहम बताते हुए कहा कि महिलाएं परिवार के संचालन में महती भूमिका का निर्वहन करती हैं। परिवार को सामाजिक, सांस्कृतिक एवं आर्थिक रूप से सशक्त बनाने में भी महत्वपूर्ण दायित्वों का निर्वहन कर रही हैं। वर्तमान में महिलाएं सभी क्षेत्रों में निरंतर प्रगति कर रही हैं।  

इस कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही पार्षद सीमा सोनी ने कहा कि महिलाएं घर के कामकाज के साथ ही बाहर के कार्यो का भी सफलतापूर्वक निर्वहन कर रही हैं। आज वो पुरूषों से कदम से कदम मिलाकर समाज को नई दिषा प्रदान कर रही हैं।

उन्होंने बताया कि आज मैं अपने वार्ड की महिलाओं की बात सुनकर उनके समस्याओं का समाधान करती हूं, जिससे उनमें अपनी बात रखने की हिम्मत आती है। पार्षद गीता प्रजापति इस अवसर पर कहा कि जहां नारी की पूजा होती है, वहाँ ईश्वर का वास होता है, विश्व की आधी आबादी महिलाओं की है,आज महिलाओं की हर क्षेत्र में भागीदारी हो रही है। समाजसेवी वंदना दत्ता ने कहा कि साक्षरता से महिलाओं में जागरूकता आ रही है और वे निरंतर आगे बढ़ रही हैं। साक्षरता से महिलओं के आत्मविश्वास में वृद्धि हुई है। साहित्यकार डॉ. आशा शर्मा ने इस अवसर पर कहा कि सभी महिलाओं को संगठित होकर एक दूसरे का सहयोग करना चाहिए।

इस अवसर पर साहित्यकार अनिता मंदिलवार ने कहा कि वर्तमान में महिलाएं समाज में एक नया मुकाम हासिल कर रही हैं। समाज में महिलाओं का मान-सम्मान बेहद आवश्यक है।  

साक्षर भारत कार्यक्रम के जिला परियोजना अधिकारी गिरीश गुप्ता ने कहा कि साक्षरता के साथ ही महिलाओं द्वारा कौशल विकास का प्रशिक्षण प्राप्त कर परिवार की आमदनी बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। साथ ही उनके आत्मविश्वास में भी वृद्धि हुई है।

साहित्यकार डॉ.नीरज वर्मा ने कहा कि महिलाएं ज्ञान, विज्ञान और साहित्य के क्षेत्र में भी निरंतर प्रगति कर रही हैं।

इस जिला स्तरीय संगोष्ठी में जन षिक्षण संस्थान सरगुजा के निदेशक एम.सिद्धिकी, साहित्यकार आयशा अहमद खान,संगीता तिवारी,रूही सिद्धिकी,बीपीओ कमलेश वर्मा, लाईवलीहुड कॉलेज के एपीओ अकरम खान एवं पी.के.महापात्र, सहित अन्य कर्मचारी उपस्थित रहे।

Tags
Back to top button