सीवरेज के काम में आई रुकावट, ब्लास्ट कर किया जाएगा समस्या का समाधान

एसपी से विस्फोट की अनुमति मिलने के बाद निगम के सीवरेज सेल प्रभारी ने कलेक्टर के समक्ष आवेदन भेजकर अनुमति की मांग की है

बिलासपुर।

हार्ड रॉक आने के कारण करीब साल भर से सिटी कोतवाली से लेकर जवाली पुल तक लटके सीवरेज परियोजना के काम को अब गति मिलने की उम्मीद है। एसपी से विस्फोट की अनुमति मिलने के बाद निगम के सीवरेज सेल प्रभारी ने कलेक्टर के समक्ष आवेदन भेजकर अनुमति की मांग की है।

करीब डेढ़ साल पूर्व 422 करोड़ के सीवरेज परियोजना का काम कर रही सिंप्लेक्स कंपनी ने खुदाई कर पाइप लाइन डालने के दौरान सिटी कोतवाली से लेकर जवाली पुल तक 240 मीटर एरिया में भारी भरकम चट्टान आने के कारण काम बंद करा दिया था।

भारी भरकम चट्टान के कारण पाइप लाइन डालने में आ रही दिक्कत को दूर करने के लिए नगर निगम के तत्कालीन सीवरेज सेल प्रभारी मनोरंजन सरकार ने जिला और पुलिस प्रशासन से विस्फोट कर चट्टान को तोडऩे की मांग की थी,

जिला प्रशासन ने तो अभी तक अनुमति नहीं दी लेकिन एसपी ने सीवरेज सेल को नई तकनीक से बिना आसपास के इलाके को क्षति पहुंचाए हाफ ब्लास्ट कर चट्टान को तोडऩे की अनुमति दे दी है।

एसपी कार्यालय से अनुमति मिलने के बाद अब विस्फोट के लिए इसी आधार पर निगम का सीवरेज सेल जिला प्रशासन के समक्ष अनुमति के लिए प्रयास कर रहा है। जिला प्रशासन से अनुमति मिलने के बाद आगे पाइप लाइन के विस्तार का कार्य कराया जाएगा।

ये आ रही दिक्कत

भूमिगत मल निकासी के लिए सिंप्लेक्स कंपनी ने जो पाइप लाइन डाला है। वह लेवल के हिसाब से चट्टान आने के कारण बाधित हो रहा है। जिसे लेबल में लाने के लिए चट्टान को तोड़ा जाना है,

ताकि उसी लेवल से पाइप लाइन को आगे बढ़ाकर पंपिंग स्टेशन और उसके आगे ले जाया जा सके।

ऐसे कराया जाएगा हाफ ब्लास्ट


जिला प्रशासन से अनुमति मिलने के बाद निगम के सीवरेज सेल को हाफ ब्लास्ट के लिए लाइसेंसी फर्म से इस चट्टान को तोडऩे के लिए अनुबंध करना होगा।

अनुबंधित फर्म द्वारा चट्टान आने तक सड़क की खुदाई कराई जाएगी इसके बाद चट्टान में पाइप मशीन से पाइलिंग कराकर सुराग में बारूद डालकर गड्ढे को मोटे कपड़े से ढककर हाफ ब्लास्ट कराया जाएगा। इससे केवल चट्टान ही टूटेगी। आसपास की दुकानों और निर्माण पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा।

रात के समय तोड़ी जाएगी चट्टान

सिटी कोतवाली के सामने से लेकर जवाली पुल के बीच लगभग 240 मीटर चट्टान आने के कारण यहां करीब डेढ़ साल से काम रूका हुआ है।

जिला और पुलिस प्रशासन से हाफ ब्लास्ट की अनुमति मांगी गई है एसपी कार्यालय से तो अनुमति मिल गई है अब जिला प्रशासन के समक्ष फिर से इसके लिए आवेदन किया जाएगा। हाफ ब्लास्ट से केवल बाधक चट्टान को रात के समय तोड़ा जाएगा इससे आसपास के भवनों पर कोई दिक्कत नहीं आएगी।

advt
Back to top button