Uncategorized

‘यहां अंतिम संस्कार पर रोने के लिए किराए पर मिलती हैं महिलाएं’

अमरोहा। सोशल मीडिया पर शिव कुमार जाटव नाम के एक व्यक्ति के फोटो के साथ एक मैसेज वायरल हो रहा है। जिसमें लिखा है कि हमारे यहां हिन्दू रीति के अनुसार अंतिम संस्कार का सभी सामान उचित मूल्य पर उपलब्ध है और नोट में लिखा है कि हमारे यहां रोने वाली औरतें भी किराए पर मिलती हैं। हाँलाकि इस विज्ञापन को शिव जाटव ने सिरे से नकार दिया है.

जब उन्हें मोबाइल में इस्तेहार को दिखाया तो उन्होंने कहा कि ये किसी की शरारत है शिव कुमार रेडियो टीवी मैकेनिक है और अमरोहा के मेन बाजार में उनकी दुकान है।

किसी ने बदनाम करने के लिए की है ऐसी हरकत

शिवकुमार के भतीजे का कहना है कि तीन चार दिन पहले ही उन्हें इसके बारे में पता चला है। शिवकुमार ने कुछ साल पहले गांव में पंचायत का चुनाव लड़ा था और जो फोटो इस इश्तेहार में लगा है वो ही फोटो पोस्टर और स्टीकर में लगा था, ये वही फोटो है। लेकिन पता नहीं किसने और क्यों ऐसा किया, लेकिन जो इसमें लिखा है वो सब गलत है। ऐसा ही ग्राम प्रधान ने भी कहा।

मामले को प्रशासनिक अधिकारियों तक पहुंचाया
शिव कुमार जाटव (वायरल मैसेज पीड़ित) से इस सच्चाई को जानना चाहते थे। लिहाजा हम अमरोहा के मुख्य बाजार उनकी दुकान पर पहुंचे। शिवकुमार से मुलाकात हुई तब उन्होंने बताया कि अभी कुछ दिन पहले ही उन्हें इसके बारे में पता चला तब से ही वो काफी परेशान है काफी दूर-दूर से फोन आ रहे हैं, जिसके चलते फोन बंद करना पड़ा। अब उन्होंने इन शिकायत को प्रशासनिक अधिकारियों तक पहुंचा दिया है और उन्होंने भी सोशल मीडिया पर इसका खंडन डाल दिया है।

Tags
Back to top button