खेल

आईपीएल-13 : चेन्नई ने बेंगलोर के अंतिम-4 में जाने के इंतजार को बढ़ाया

चेन्नई के गेंदबाजों ने बेंगलोर को बड़ा स्कोर नहीं बनाने दिया।

दुबई । प्लेऑफ की दौड़ से लगभग बाहर हो चुकी चेन्नई सुपर किंग्स ने रविवार को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के अंतिम-4 में जाने के इंतजार को थोड़ा बढ़ा दिया है। तीन बार की विजेता ने दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन के मैच में बेंगलोर को आठ विकेट से हरा दिया।

चेन्नई के गेंदबाजों ने बेंगलोर को बड़ा स्कोर नहीं बनाने दिया। बेंगलोर के कप्तान विराट कोहली के अर्धशतक के दम पर 20 ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर 145 रन बनाए। आसान से लक्ष्य को चेन्नई ने युवा बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड़ के नाबाद 65 रनों के दम पर 18.4 ओवरों में दो विकेट गंवाकर हासिल कर लिया।

बेंगलोर अगर यह मैच जीत लेती तो उसके 16 अंक हो जाते और वह प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर जाती, लेकिन अब उसे अगले मैच तक का इंतजार करना होगा।
विकेट को देखते हुए चेन्नई को इस जीत के लिए सधी हुई शुरुआत चाहिए थी और चाहिए था कि उसका कोई एक सलामी बल्लेबाज रुक कर बल्लेबाजी करे। फाफ डु प्लेसिस (25) ने पहले विकेट के लिए ऋतुराज के साथ मिलकर 46 रन जोड़े। छठे ओवर की पहली ही गेंद पर क्रिस मौरिस ने उन्हे मोहम्मद सिराज के हाथों कैच करा दिया।

ऋतुराज एक छोर संभाले हुए खड़े रहे। उन्हें साथ मिला अंबाती रायडू (39) का जिन्होंने ऋतुरात के साथ मिलकर 67 रनों की साझेदारी निभाई।

विकेट पर जमने के बाद यह दोनों विकेट के व्यवहार से वाकिफ हो गए थे और फिर आसानी से अपने शॉट्स खेलने लगे।

विकेट की दरकार थी और कोहली ने अपने तुरुप के इक्के युजवेंद्र चहल को लगाया। चहल कप्तान के भरोसे पर खरे उतरे। उन्होंने रायडू को बोल्ड कर दिया। इसके बाद ऋतुराज ने चहल के ओवर में अपना अर्धशतक पूरा किया।

कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने युवा खिलाड़ी के साथ मिलकर टीम को जीत दिलाई। धोनी 19 रनों पर नाबाद रहे। ऋतुरात ने अपनी पारी में 51 गेंदें खेली। उन्होंने चार चौके तीन छक्के मारे।

इस मैदान की पिच धीमी थी और इस पर बड़े शॉट लेना आसान नहीं था। बेंगलोर के सलामी बल्लेबाज देवदत्त पडिकल ने दो चौके और एक छक्का लगाया और उनके साथी एरॉन फिंच ने भी तीन चौके लगाए। लेकिन यह दोनों 46 के कुल स्कोर तक पवेलियन लौट लिए थे। पहले फिंच गए जिन्होंने 15 रन बनाए और फिर पडिकल आउट हुए जिन्होंने 22 रन बनाए।

अब कोहली और अब्राहम डिविलियर्स की जोड़ी मैदान पर थी। विकेट को समझते हुए इन दोनों ने संभल कर बल्लेबाजी की। कोहली ने 43 गेंदों पर 50 रन जरूर बनाए, लेकिन उनकी पारी में सिर्फ एक चौका और एक छक्का शामिल रहा।

डिविलियर्स के साथ मिलकर उन्होंने 82 रन जोड़े। डिविलियर्स ने भी हालत के मुताबिक बल्लेबाजी की। आखिरी ओवरों में जब टीम को तेजी से रन बनाने की जरूरत थी तब इन दोनों ने बल्लेबाजों ने प्रयास किए लेकिन सफल नहीं रहे।

डिविलियर्स पहले आउट हुए। उन्होंने चार चौकों की मदद से 36 गेंदों पर 39 रन बनाए। कोहली भी अर्धशतक पूरा करने के तुरंत बाद सैम कुरैन की गेंद पर डु प्लेसिस को कैच दे बैठे।

मोइन अली (1) और क्रिस मौरिस (2) भी तेजी से रन बनाने की कोशिश मे आउट हुए।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button