आईपीएल 2018 : मुंबई ने चेन्नई को 8 विकेटों से हराया

चेन्नई से मिले 170 रन के लक्ष्य को मुंबई ने गेंद शेष रहते हासिल कर लिया

पुणेः मुंबई इंडियंस ने टूर्नामेंट के 27वें मैच में चेन्नई सुपर किंग्स को 8 विकेटों से हराकर जीत दर्ज की। चेन्नई से मिले 170 रन के लक्ष्य को मुंबई ने गेंद शेष रहते हासिल कर लिया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई टीम के ओपनर सूर्यकुमार यादव ने टीम को अच्छी शुरुआत दी, लेकिन वे 44 रन बनाकर हरभजन सिंह की गेंद पर जडेजा को कैच दे बैठे।इससे पहले टॉस हारकर पहले बैटिंग के लिए आए चेन्नई के ओपनर शेन वॉटसन और अंबाति रायडू ने मुंबई को सधी हुई शुरुआत दी।

लेकिन चार ओवर में जब चेन्नई मात्र 24 रन ही बना पाई तो वाटसन ने रन गति बढ़ाने की जिम्मेदारी ली। लेकिन बड़ा बड़ा शॉट मारने के चक्कर में वह कु्रणाल की गेंद पर मार्कंडेय को कैच थमा बैठे। क्रीज पर अंबाति का साथ देने सुरेश रैना आए। रैना ने आते ही जोरदार छक्का लगाकर अपनी पारी की शुरुआत की। इसके बाद रायडू ने भी हाथ खोलने शुरू कर दिए।12वें ओवर में क्रुणाल पांड्या ने कटिंग के हाथों कैच करा रायडु को पवेलियन भेजा। रायडु ने 35 गेंद में चार छके और दो चौकों की मदद से 46 रन बनाए। फिर तीसरा विकेट महेंद्र सिंह धोनी का गिरा, वह 26 रन बनाकर आउट हो गए। ड्वेन ब्रावो तो पहली ही गेंद पर कैच दे बैठे। ब्रावो के बाद सैम बिलिंग्स (3) ने भी कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया। लेकिन सुरेश रैना ने नाबाद 75 रनों की पारी खेल चेन्नई को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचा दिया।

मुंबई के लिए जीत है जरूरी

इस महीने के शुरू में मुंबई में वानखेड़े स्टेडियम में चेन्नई सुपरकिंग्स ने गत चैम्पियन को एक विकेट से मात दी थी और वो भी एक गेंद रहते। मुंबई इंडियंस की टीम लगातार दो मैचों में हार के बाद विजयी लय में लौटने को बेताब होगी। दोनों टीमों के लिये सफर अभी तक विपरीत ही रहा है। मुंबई को अब तक छह मैचों में केवल एक ही जीत मिली है जबकि महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई वाली टीम ने छह में से पांच मैच अपने नाम किये हैं। वहीं चेन्नई को अपने मूल घरेलू मैदान से हटना पड़ा, लेकिन इसका असर उन पर नहीं पड़ा क्योंकि उन्होंने पुणे में अपना पहला मैच जीत लिया था। मुंबई को अगर टूर्नामेंट में बने रहना है तो उन्हें इस मुकाबले में जीत दर्ज करनी ही होगी।

सूर्यकुमार यादव को छोड़कर मुंबई के बल्लेबाज को टूर्नामेंट में रन बनाने में परेशानी हो रही है। कप्तान रोहित शर्मा भी छह में से पांच में चलने में असफल रहे और कीरोन पोलार्ड का भी यही हाल रहा है। लेकिन अगर रोहित, पोलार्ड, सूर्य, इविन लुईस और हाॢदक पंड्या एक साथ बल्लेबाजी में चल जायें तो मुंबई की टीम बड़ा स्कोर बना सकती है और बड़े लक्ष्य का भी पीछा कर सकती है। कोच महेला जयवर्धने सभी से अच्छा स्कोर बनाने की उम्मीद करेंगे।

रायल चैलेंजर्स बेंगलूर के खिलाफ 94 रन की मैच विजेता पारी को छोड़ दें तो रोहित पांच मैचों में 20 रन से आगे बढऩे में असफल रहे। लेकिन अब वह भी कुछ रन जुटाना चाहेंगे। रोहित का बल्लेबाजी में क्रम भी अहम होगा और मुंबई इंडियंस उन्हें पारी का आगाज कराने को कह सकती है और सूर्य को चौथे नंबर पर उतार सकती है। गेंदबाजी के लिहाज से भी मुंबई इंडियंस इकाई के रूप में प्रदर्शन करने में विफल रही है। जब एक गेंदबाज ने अच्छा प्रदर्शन किया तो उसे दूसरे छोर से सहयोग नहीं मिला। बीस वर्षीय लेग स्पिनर मयंक मार्कंडेय मुंबई की खोज रहे, उन्होंने अभी तक छह मैचों में 10 विकेट अपने नाम किये हैं। लेकिन अन्य गेंदबाज जैसे ‘डेथ ओवरों’ के विशेषज्ञ जसप्रीत बुमराह और बांगलदेश के तेज गेंदबाज मुस्तफिजुर रहमान भी उम्मीदों पर खरा नहीं उतर सके हैं। अगर स्टार खिलाडिय़ों से सुसज्जित चेन्नई सुपरकिंग्स के बल्लेबाजी क्रम को रोके रखना है तो इन दोनों को अपनी भूमिका बेहतर ढंग से निभानी होगी।

चेन्नई के बल्लेबाज चल रहे हैं फाॅर्म में

मुंबई की टीम न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज एडम मिलने को हमवतन मिशेल मैक्लेनाघन की जगह उतार सकती है क्योंकि वह काफी रन लुटा रहे हैं, विशेषकर अंत में। वहीं दूसरी ओर चेन्नई की टीम पिछली जीत से आत्मविश्वास से भरी होगी जिसमें धोनी ने शानदार पारी खेलकर रायल चैलेंजर्स बेंगलूर के खिलाफ 206 रन के विशाल लक्ष्य को हासिल कराने में मदद की। चेन्नई की टीम अपने ज्यादातर बल्लेबाजों- आस्ट्रेलियाई शेन वाटसन, अम्बाती रायुडू, ड्वेन ब्रावो और धोनी के प्रदर्शन से खुश है जो फार्म में हैं। केवल सुरेश रैना ही फार्म में नहीं है और वह भी रन जुटाने के लिये बेताब होंगे। कोच स्टीफन फ्लेमिंग बल्लेबाजों की मुफीद पिच पर अपने खिलाडिय़ों से शानदार प्रदर्शन की उम्मीद करेंगे। शारदुल ठाकुर की अगुवाई वाली चेन्नई की गेंदबाजी भी अभी तक अच्छी रही है जिसमें इमरान ताहिर और दीपक चाहर ने भी सहयोग किया है। मुंबई की टीम पर जहां जीत दर्ज करने का दबाव होगा तो चेन्नई की टीम एक और जीत से तालिका में अपना स्थान मजबूत कर लेगी।

Back to top button