Ind vs Aus: पिच के स्वभाव और परिस्थिति के अनुसार बल्लेबाजी करनी पड़ी: पुजारा

इसकी बजाए दूसरी पिच होती तो इतनी ज्यादा गेंद खेलने के बाद मैं 140-150 रन बना सकता था।

चेतेश्वर पुजारा वैसे तो तेज बल्लेबाजी नहीं करते हैं लेकिन मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड की पिच पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत के इस तीसरे क्रम के बल्लेबाज को भी बहुत धीमे खेलना पड़ा।

पुजारा ने कहा हमें पिच के स्वभाव और परिस्थिति के अनुसार बल्लेबाजी करनी पड़ी। इस पिच पर रनों के लिए काफी गेंदें खेलनी पड़ी।

यदि इसकी बजाए दूसरी पिच होती तो इतनी ज्यादा गेंद खेलने के बाद मैं 140-150 रन बना सकता था।

पुजारा ने भारत की पहली पारी में 319 गेंद खेलकर 106 रन बनाए। भारत ने पहली पारी 7 विकेट पर 443 रन बनाकर घोषित की।

पुजारा ने स्वीकारा कि एमसीजी की पिच पर रन बनाना बहुत कठिन है और भारत ने जो स्कोर बनाया उस तक पहुंचना ऑस्ट्रेलिया के लिए चुनौतीपूर्ण हैं।

उन्होंने कहा, इस पिच पर रन बनाना आसान नहीं हैं। यदि हम पहले दो दिनों के रनों पर नजर डालेंगे तो वो कम है और इस पिच पर एक दिन में 200 रन बनाना भी आसान नहीं है।

असमान उछाल ऑस्ट्रेलिया के लिए परेशानी खड़ी करेगी। पुजारा खुद भी नीची रहती हुई गेंद पर आउट हुए थे।

पुजारा ने कहा, इस तरह की पिच पर बल्लेबाजी करते वक्त संदेह रहता है और मैं जिस गेंद पर आउट हुआ उसके बारे में कुछ नहीं कर सकता था। जब गेंद इतनी नीचे रह जाती है तो बल्लेबाज के पास कम विकल्प रह जाते हैं।

पुजारा ने कहा, पिच खराब होना शुरू हो गया है और पहले दिन की तुलना में दूसरे दिन इसकी स्थिति ज्यादा बिगड़ चुकी है।

इसलिए मेरा मानना है कि इस पर बल्लेबाजी करना आसान नहीं होगा। हमारे गेंदबाज अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं और हम पर्याप्त रन बना चुके हैं।

 

new jindal advt tree advt
Back to top button