बिलासपुर में आईपीएल सट्टे का भंडाफोड़, लाखों रुपए कैश, LED टीवी मोबाइल जब्त

पुलिस ने सटोरियों के खिलाफ विशेष अभियान चलाकर अलग-अलग जगहों से 8 सटोरियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए सटोरियों के पास से पुलिस ने लाखों रुपए कैश, एलईडी टीवी, मोबाइल , सेटअप बाक्स, लाखों की सट्टा-पट्टी जब्त की है

बिलासपुर

पुलिस ने सटोरियों के खिलाफ विशेष अभियान चलाकर अलग-अलग जगहों से 8 सटोरियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए सटोरियों के पास से पुलिस ने लाखों रुपए कैश, एलईडी टीवी, मोबाइल , सेटअप बाक्स, लाखों की सट्टा-पट्टी जब्त की है।

बता दें की बिलासपुर पुलिस के उच्च अधिकारियों को लम्बे समय से आइपीएल क्रिकेट मैच में सटोरियों के सक्रिय होने की सूचनाएं मिल रही थी, जिस पर पुलिस के आलाधिकारी ने थाना पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम को सटोरियों पर बड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

मोबाइल नंबरों का लोकेशन हासिल की रेड

पुलिस ने चिन्हित मोबाइल नंबरों का लोकेशन हासिल किया, इस बीच उन्हें मुखबिर से पता चला कि सटोरिए तिफरा इलाके के एक मकान में बैठकर आइपीएल मैच में सट्टेबाजी नेटवर्क को ऑपरेट कर रहे हैं। खबर मिलते ही बिलासपुर पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम एक साथ दबिश दी। इस दौरान तीन सटोरिए रंगे हाथों पकड़े गए।

उनके पास से 42 हजार रुपये कैश, 50 लाख रुपये से अधिक की सट्टापट्टी, सात मोबाइल, एलईडी टीवी जब्त की गई। पुलिस ने तिफरा इलाके में ही एक और घर में राधा कृष्ण मंदिर के पास रहने वाले दुर्गेश गुप्ता के घर में पुलिस दबिश दी। वहां से भी पुलिस ने टीवी देखकर सट्टा खिलाने के मामले में दुर्गेश गुप्ता को गिरफ्तार किया।

उसके पास से एक लाख चार हजार रुपए , लाखों रुपए की सट्टापट्टी, दो मोबाइल जब्त किए गए हैं। वहीं मस्तूरी पुलिस को सूचना मिली कि शहर के सटोरिए जयरामनगर स्थित छत्तीसगढ़ ढाबा में सट्टा खिला रहे हैं। खबर मिलते ही पुलिस ने दबिश दी और दो सटोरियों को धर दबोचा, सटोरियों के खिलाफ जुआ एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है। सभी मामलों में पुलिस मामला दर्ज कर कार्रवाई में जुट गयी है।

Back to top button