क्रिकेट

IPL 11 : जीत के लिए भिड़ेंगे गंभीर और रहाणे, 8 बजे शुरू होगा मैच

जयपुर : अपना पहले मैच हार चुके दिल्ली और राजस्थान की भिडंत में दोनों टीमें जीत के इरादे से मैदान में उतरेंगे. दो साल बाद वापसी कर रही राजस्थान की टीम अपने घरेलू मैदान जयपुर में पहला मैच खेलने जा रहे हैं. राजस्थान क्रिकेट संघ भी हाल के समय में उथल पुथल के दौर से गुजरा था और काफी मशक्कत के बाद उसे आईपीएल मैचों की मेजबानी की मंजूरी मिली थी।

जीत हासिल करने जोर लगाएगी दोनों टीम

राजस्थान को अपने पहले मैच में कल हैदराबाद में सनराइजर्स हैदराबाद के हाथों नौ विकेट की करारी हार का सामना करना पड़ा था जबकि दिल्ली की टीम आठ अप्रैल को मोहाली में किंग्स इलेवन पंजाब के हाथों छह विकेट से मात खा गई थी। दोनों ही टीमें इस मैच में जीत हासिल करने के लिए पूरा जोर लगा देंगी। दिल्ली के कप्तान गौतम गंभीर को देखना होगा कि उनकी टीम राजस्थान के खिलाफ अच्छा स्कोर खड़ा करे। गंभीर ने पंजाब के खिलाफ अर्धशतक तो बनाया था लेकिन बाकी बल्लेबाज उम्मीदों के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर सके थे।

दिल्ली को तेज तर्रार शुरूआत दे सकते हैं पंत

गंभीर को युवा विकेटकीपर रिषभ पंत के बल्लेबाजी क्रम के बारे में अभी से तय कर लेना होगा। यह बल्लेबाज ओपनिंग में टीम को तेज तर्रार शुरूआत दे सकता है जिस तरह की शुरूआत केकेआर को सुनील नारायण दे रहे हैं। पंत पंजाब के खिलाफ पांचवें नंबर पर उतरे थे और उन्होंने 13 गेंदों में 28 रन बनाए थे। इस मैच में कॉलिन मुनरो चार और तीसरे नंबर के बल्लेबाज श्रेयस अय्यर 11 रन पर आउट हो गए थे जबकि विजय शंकर ने 13 रन बनाए। पंत को इन बल्लेबाजों से ऊपर लाने की जरूरत है ताकि वह पूरा समय लेकर टीम के लिए बड़ी पारी खेल सकें।

पिछले मुकाबले में राजस्थान की बल्लेबाजी निराशाजनक थी

राजस्थान की टीम ने हैदराबाद के खिलाफ बल्लेबाजी में बेहद निराशाजनक प्रदर्शन किया था और टीम मात्र 125 रन ही बना सकी थी जो विपक्षी टीम को रोकने के लिए पर्याप्त नहीं था। राजस्थान के पास कप्तान रहाणे, संजू सैमसन, बेन स्टोक्स और जोस बटलर के रूप में कई अच्छे खिलाड़ी हैं। राजस्थान के लिए दुर्भाग्यपूर्ण रहा था कि उसके आस्ट्रेलियाई बल्लेबाका डी आर्सी शॉर्ट मात्र चार रन बनाकर केन विलियम्सन के सीधे थ्रो पर रन आउट हो गए थे और फिर बेन स्टोक्स भी कुछ खास नहीं कर पाए थे। राजस्थान को अपनी जमीन पर यदि बेहतर प्रदर्शन करना है तो उसके विदेशी बल्लेबाजों को भारतीय पिचों और परिस्थितियों से तालमेल बैठाकर खेलना होगा।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.