खेल

महिला कबड्डी टीम को ईरान ने दी मात, गोल्ड का सपना टुटा

नई दिल्ली : 18वें एशियन गेम्स में भारतीय महिला कबड्डी टीम को ईरान ने 24-27 से दी मात। इस तरह उसे सिल्वर मेडल से संतोष करना पड़ा।

टूर्नमेंट से पहले माना जा रहा था कि ईरानी टीम भारत के मुकाबले कमजोर है, लेकिन खिताबी मुकाबले में कई मौकों पर न केवल भारत को जबरदस्त टक्कर दी, बल्कि मुकाबला भी अपने नाम कर लिया।

खिताबी मुकाबले में पहले हाफ तक भारतीय महिला 13-11 से आगे थीं, लेकिन दूसरे हाफ में ईरान ने जबरदस्त कमबैक किया और मै जीत लिया। बता दें कि पुरुष कबड्डी में भी भारत को ईरान से हारकर ब्रॉन्ज मेडल से संतोष करना पड़ा था।

पहले हाफ तक भारतीय टीम ईरान के खिलाफ 13-11 से आगे थी। शुरुआत में भारत काफी आगे था, लेकिन पहले हाफ के खत्म होने से ठीक पहले ईरान ने वापसी करते हुए 5 पॉइंट जुटाकर बढ़त कम कर दी।

दूसरे हाफ में ईरानी महिलाओं ने गजब की फुर्ती दिखाई और सुपरटेकल करते हुए 17-13 से बढ़त ले ली। भारत ने अंतिम वक्त में कमबैक किया, लेकिन अहम मौके पर खराब अंपारिंग ने उसे हार की ओर धकेल दिया।

खराब अंपायरिंग भी हार की वजह

इस दौरान चार बार ऐसा हुआ जब भारत ने पॉइंट लिए, लेकिन अंपायर ने दिए ही नहीं और भारत को नुकसान उठाना पड़ा। देखा जाए तो ईरान की जीत का श्रेय उनके खिलाड़ियों के अच्छा प्रदर्शन के अलावा खराब अंपायरिंग को भी जाता है। अगर यहां पॉइंट मिलते तो भारत के लिए मौका बन सकता था।

सेमीफाइनल में चीनी ताइपै को हराया

इससे पहले भारतीय टीम ने सेमीफाइनल में चीनी ताइपै को 27-14 से मात देकर फाइनल में प्रवेश किया। टीम इंडिया ग्रुप-ए में शीर्ष पर रहकर सेमीफाइनल में पहुंची थी। ग्रुप लेवल पर भारतीय महिलाओं ने पहले मैच में जापान को 43-12 से हराया,

जबकि दूसरे मुकाबले में थाइलैंड को 33-23 से हराया था। उसने अन्य मुकाबलों में श्री लंका को 38-12 और इंडोनेशिया को 54-22 के बड़े अंतर से धूल चटाई थी।

पुरुष टीम को ब्रॉन्ज मेडल

विश्व कबड्डी का सरताज भारत एशियाई खेलों में अपनी बादशाहत गुरुवार को बरकरार नहीं रख सका। 8वें स्वर्ण पदक की दौड़ में यहां आई भारत की पुरुष टीम को सेमीफाइनल में उसके सबसे कड़े प्रतिद्वंद्वी ईरान ने एकतरफा मुकाबले में 27-18 से हराकर ब्रॉन्ज तक ही रोक दिया।

18वें एशियन गेम्स में भारतीय महिला कबड्डी टीम को ईरान के हाथों 24-27 से हार का सामना करना पड़ा। इस तरह उसे सिल्वर मेडल से संतोष करना पड़ा। टूर्नमेंट से पहले माना जा रहा था कि ईरानी टीम भारत के मुकाबले कमजोर है, लेकिन खिताबी मुकाबले में कई मौकों पर न केवल भारत को जबरदस्त टक्कर दी, बल्कि मुकाबला भी अपने नाम कर लिया।

खिताबी मुकाबले में पहले हाफ तक भारतीय महिला 13-11 से आगे थीं, लेकिन दूसरे हाफ में ईरान ने जबरदस्त कमबैक किया और मै जीत लिया। बता दें कि पुरुष कबड्डी में भी भारत को ईरान से हारकर ब्रॉन्ज मेडल से संतोष करना पड़ा था।

पहले हाफ तक भारतीय टीम ईरान के खिलाफ 13-11 से आगे थी। शुरुआत में भारत काफी आगे था, लेकिन पहले हाफ के खत्म होने से ठीक पहले ईरान ने वापसी करते हुए 5 पॉइंट जुटाकर बढ़त कम कर दी।

दूसरे हाफ में ईरानी महिलाओं ने गजब की फुर्ती दिखाई और सुपरटेकल करते हुए 17-13 से बढ़त ले ली। भारत ने अंतिम वक्त में कमबैक किया, लेकिन अहम मौके पर खराब अंपारिंग ने उसे हार की ओर धकेल दिया।

खराब अंपायरिंग भी हार की वजह

इस दौरान चार बार ऐसा हुआ जब भारत ने पॉइंट लिए, लेकिन अंपायर ने दिए ही नहीं और भारत को नुकसान उठाना पड़ा। देखा जाए तो ईरान की जीत का श्रेय उनके खिलाड़ियों के अच्छा प्रदर्शन के अलावा खराब अंपायरिंग को भी जाता है। अगर यहां पॉइंट मिलते तो भारत के लिए मौका बन सकता था।

सेमीफाइनल में चीनी ताइपै को हराया

इससे पहले भारतीय टीम ने सेमीफाइनल में चीनी ताइपै को 27-14 से मात देकर फाइनल में प्रवेश किया। टीम इंडिया ग्रुप-ए में शीर्ष पर रहकर सेमीफाइनल में पहुंची थी। ग्रुप लेवल पर भारतीय महिलाओं ने पहले मैच में जापान को 43-12 से हराया,

जबकि दूसरे मुकाबले में थाइलैंड को 33-23 से हराया था। उसने अन्य मुकाबलों में श्री लंका को 38-12 और इंडोनेशिया को 54-22 के बड़े अंतर से धूल चटाई थी।

पुरुष टीम को ब्रॉन्ज मेडल

विश्व कबड्डी का सरताज भारत एशियाई खेलों में अपनी बादशाहत गुरुवार को बरकरार नहीं रख सका। 8वें स्वर्ण पदक की दौड़ में यहां आई भारत की पुरुष टीम को सेमीफाइनल में उसके सबसे कड़े प्रतिद्वंद्वी ईरान ने एकतरफा मुकाबले में 27-18 से हराकर ब्रॉन्ज तक ही रोक दिया। यह पहला मौका है जब भारत एशियन गेम्स कबड्डी में गोल्ड से चूका है।

Tags
Back to top button