अंतर्राष्ट्रीय

ईरानी मीडिया ने किया दावा, सीआईए अधिकारी की प्लेन क्रैश में मौत

नई दिल्ली: अमेरिकी सेना ने पूर्वी अफगानिस्तान में एक सैन्य विमान दुर्घटना स्थल से दो लोगों के अवशेष बरामद किए हैं. अफगानिस्तान में अमेरिकी सैन्य मिशन ने एक विज्ञप्ति में बताया कि अमेरिकी विमान से उड़ान डेटा रिकॉर्डर या ‘ब्लैक बॉक्स’ गजनी प्रांत में दुर्घटनास्थल से बरामद किया गया है.

अधिकारियों ने अपनी विज्ञप्ति में कहा कि शवों और ब्लैक बॉक्स की बरामदगी के बाद अमेरिकी बलों ने ई-11-ए इलेक्ट्रॉनिक्स निगरानी विमान के अवशेष को नष्ट कर दिया है.

वहीं ईरानी मीडिया ने दावा किया है कि प्लेन क्रैश ईरान के टॉप कमांडर कासिम सुलेमानी की हत्या का योजना बनाने वाले अमेरिकी खुफिया एजेंसी के वरिष्ठ अधिकारी माइकल डी एंड्रिया की मौत हो गई है.

ईरानी मीडिया ने एक रशियन सूत्र के हवाले से कहा गया कि प्लेन क्रैश में ईराक, ईरान और अफगानिस्तान में अमेरिकी इंटैलिजेंस का प्रमुख मारा गया. हालांकि रिपोर्ट में कहा गया कि ऐसा कोई संकेत नहीं मिला है जिससे यह पता चल सकेत कि जासूसी विमान को दुश्मन हमले में मार गिराया गया. हादसे के कारणों का पता लगाने के लिए जांच जारी है.

समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, अधिकारियों ने कहा है कि दुर्घटना के कारणों की जांच की जा रही है. इसके साथ ही उन्होंने दोहराया कि इस बात का कोई संकेत नहीं मिला है कि यह दुर्घटना दुश्मन के हमले से हुई है. दरअसल तालिबान द्वारा सोमवार को इस हमले की जिम्मेदारी ली गई थी.

यह विमान सोमवार अपराह्न् लगभग 1:30 बजे जमीन पर गिरा था. गजनी गवर्नर के एक प्रवक्ता आरिफ नूरी ने सोमवार को एफे न्यूज को बताया था कि विमान दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद जल गया. इसमें सवार किसी भी व्यक्ति की जान नहीं बच सकी. स्थानीय निवासियों ने मलबे से दो पायलटों के शवों को निकाला था.

Tags
Back to top button