क्या आपके घर के सामने लगा है सेटेलाइट,तो हो जाएं सावधान

वास्तुदोष से कई तरह की परेशानियां उठानी पड़ सकती है

वास्तु शास्त्र के अनुसार हर घर में वास्तु दोष का प्रभाव होता है। उस घर में रहने वाले लोगों के जीवन में कईं तरह की परेशानियां खड़ी हो जाती हैं।

इसलिए वास्तु शास्त्र में घर से दोषों को खत्म करने के लिए बहुत से छोटे-छोटे उपाय बताए गए हैं, जिनसे आपके घर के समस्त वास्तु दोष खत्म हो सकते हैं और अपने जीवन को बेहतर बना सकते हैं।

आज हम आपको ऐसे कुछ उपाय बताने जा रहे हैं जिन्हें बिना तोड़-फोड़ किए अपनाया जा सकता है।

कहा जाता है कि अगर घर की खिड़की से पड़ोसी के घर का बगीचा, धोबी घाट, वाशिंग मशीन में कपड़े या सूखते हुए दिखाई दे।

अगर यह दूरी खिड़की से 30 मी से 100 मी के भीतर हो और स्त्रियों के अंतः वस्त्र सूखते हुए दिखाई दें, तो यह स्थिति अशुभ मानी जाती है।

ऐसे घर में गृहस्वामी की आर्थिक स्थिति हमेशा कमज़ोर बनी रहती है और परिवार के सदस्यों में आपसी प्रेम न के बराबर हो जाता है।

तो अगर आपके घर में ऐसा है तो घर की खिड़की के दोनों ओर पर्दे लगाने से अच्छे शुभ फल प्राप्त होने लगते हैं।

जिस घर में मकान की मुख्य खिड़की या दरवाज़े के सामने सेटेलाइट और डिश का एन्टिना लगा हो तो इस घर में बच्चों की पढ़ाई में अक्सर बाधाएं आती रहती है।

इसके साथ ही इस दोष के चलते बच्चों की हेल्थ अक्सर खराब रहने लगती हैं और घर की महिलाएं का स्वभाव चिड़चिड़ा होने लगता है।

इससे बचने के लिए घर के मुख्य दरवाज़े पर जाली या परदे लगाएं। इसके साथ ही खिड़की के बाहरी हिस्से पर गमलों में पौधे लगाना भी लाभकारी माना जाता है।

यह स्थिति भी वास्तु के अनुसार शुभ नहीं होती है। इस घर में रहने वाले व्यक्तियों के साथ अधिकतर अपने लोग ही विश्वासघात या धोखा करते है।

इतना ही नहीं घर के अन्य सदस्य घर के मुखिया की बुराई करने लगते हैं और घर की उन्नति व तरक्की के मार्ग में बाधा उत्पन्न करते हैं।

तो अगर आपके घर के पीछे भी कोई हाईवे और आप इस कारण पनप रही मुश्किलों से छुटकारा पाना चाहते हैं, तो मकान की पिछली दीवार पर अष्टकोणीय (आठ कोने वाला) दर्पण ( शीशा) लगाएं और पीछे वाली दीवार को अधिक ऊंचा करने से शुभ फल मिलने लगता है।

Back to top button