जासूसी में पकड़े गए आईएसआई एजेंट, पाकिस्तान को देता था प्रमुख जानकारी

आरोपित 2015 से लगातार जानकारी जुटाकर पाकिस्तान भेज रहा था

मेरठ।

खुर्जा निवासी जाहिद पुत्र अलीम अंसारी को मेरठ कैंट की जानकारी जुटाकर पाकिस्तान भेजने के आरोप में खुर्जा कोतवाली पुलिस और क्राइम ब्रांच ने खुर्जा से एक आईएसआई एजेंट को दबोच लिया है। आरोपित को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ शुरू कर दी है।

बुलंदशहर के एसपी क्राइम साहब रशीद खान ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि खुर्जा निवासी जाहिद पुत्र अलीम अंसारी वर्ष 2012 और 2014 में पाकिस्तान के इस्लामाबाद में नौकरी की तलाश में गया था। इस दौरान उसने इस्लामाबाद में ही एक स्थान पर कमरा किराए पर लिया और रहने लगा। दिनभर मजदूरी करता और शाम को कमरे पर आकर सो जाता था।

मजदूरी करते समय उसकी मुलाकात पाकिस्तानी एजेंसी आईएसआई के एक सदस्य से हुई। इसके बाद जाहिद को हजारों रुपये देकर वापस भारत भेजा गया और मेरठ छावनी तथा गाजियाबाद के हिडन एयरबेस की जानकारी जुटाने का टास्क दिया गया। आरोपित 2015 से लगातार जानकारी जुटाकर पाकिस्तान भेज रहा था।

अभी जाहिद से खुफिया विभाग के अलावा एटीएस के अधिकारी भी पूछताछ कर रहे हैं। पूछताछ में पता चला है कि जाहिद हर महीने मेरठ आता था और वाट्सएप कॉल करके मेरठ कैंट की लोकेशन पाकिस्तान में बैठे आकाओं को दिखाता था। उसके मोबाइल में 19 पाकिस्तानी लोगों के नंबर मिले हैं। जांच एजेंसियां यह पता लगा रही हैं कि इनमें से आईएसआई से जुड़े कितने लोग हैं।

जाहिद का मुख्य टारगेट मेरठ कैंट और हिंडन एयरबेस था। उसके मोबाइल से मेरठ कैंट और गाजियाबाद हिडन एयरबेस की कुछ तस्वीरें भी मिली है। मेरठ के आसपास रहने वाले कई युवकों के नंबर भी उसके फोन में मिले हैं। पुलिस यह भी पता लगा रही है कि जासूस कंचन से उसका कोई संपर्क था या नहीं। उसके बैग से मेरठ और गाजियाबाद का नक्शा भी मिला है। हाल ही में उसने आलीशान मकान भी बनाया है।

1
Back to top button