राष्ट्रीय

इस्लामिक स्टेट के आतंकियों ने एक गांव के 50 लोगों का किया सिर कलम

गांव की महिलाओं का अपहरण कर लिया गया

नई दिल्ली: इस्लामिक स्टेट के आतंकियों ने एक गांव के 50 लोगों का सिर कलम कर दिया. यह जघन्य हत्याकांड गांव के एक फुटबॉल मैदान में किया गया. सिर्फ इतना ही नहीं मरने वाले लोगों के शरीरों के टुकड़ों में काटकर जंगलों में फेंक दिया गया. गांव की महिलाओं का अपहरण कर लिया गया. मोजाम्बिक के कैबो डेलगाडो राज्य के नांजबा गांव में यह दुर्दांत घटना हुई. यह राज्य प्राकृतिक गैस के लिए विख्यात है.

आपको बता दें साल 2017 से अब तक यानी तीन साल में इस इलाके में इस्लामिक आतंकियों ने 2000 लोगों को मारा है. इन आतंकियों के डर से करीब 4.30 लाख लोग राज्य छोड़कर अलग-अलग जगहों पर चले गए हैं.

50 लोगों का सिर काटने, उनके शरीर को क्षत-विक्षत करने और महिलाओं के अपहरण के बाद आतंकियों के दूसरे समूह ने गांव में आग लगा दी. गांव के कई घरों को जलाकर खाक कर दिया गया है. बीबीसी और डेलीमेल की खबर के मुताबिक आतंकी गांव में नारेबाजी करते हुए आए. घरों को जलाने लगे. जैसे ही लोग घरों से बाहर निकले उन्हें बंदी बनाकर उनका सिर काट दिया गया. इतना ही नहीं एक हफ्ते पहले भी इन आतंकियों ने कई गांवों पर हमला करके लूट-मार की थी.

मुएडा जिले के एक सरकारी अधिकारी ने बताया कि पुलिस को घटना के बारे में तब पता चला जब कुछ लोगों ने जंगलों में क्षत-विक्षत लाशें देखीं. 500 मीटर के दायरे में करीब 20 लाशें मिली लोगों को दिखाई दी थीं. इस घटना से पहले ऐसी ही घटना मार्च और अप्रैल के महीने में हुई थी.

उस समय भी 50 लोगों का सिर काटा गया था. इस्लामिक स्टेट के आतंकियों ने ये घटनाएं एक्सॉन मोबिल और टोटल गैस प्रोजेक्ट के पास की थीं. इन एनर्जी डेवलपमेंट्स प्रोजेक्ट्स के आने के बाद पिछले कुछ महीनों में इस इलाके में आतंकी गतिविधियां बढ़ गई हैं.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button