आईएसएसएफ विश्व कप 2019: सौरभ ने जीता गोल्ड, बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

इससे पहले अपूर्वी चंदेला ने महिला वर्ग में 10 मीटर एयर राइफल इवेंट का स्वर्ण पदक जीता था।

भारत के युवा निशानेबाज सौरभ चौधरी ने धमाकेदार प्रदर्शन का सिलसिजा जारी रखते हुए रविवार को आईएसएसएफ विश्व कप में पुरुषों की 10 मीटर एयर पिस्टल इवेंट में वर्ल्ड रिकॉर्ड के साथ गोल्ड मेडल जीता।

उन्होंने इसी के साथ इस इवेंट में भारत को ओलिंपिक कोटा भी दिलाया। यह भारत का इस विश्व कप में दूसरा स्वर्ण पदक है। इससे पहले अपूर्वी चंदेला ने महिला वर्ग में 10 मीटर एयर राइफल इवेंट का स्वर्ण पदक जीता था।

16 वर्षीय सौरभ ने फाइनल में शानदार प्रदर्शन कर 245 अंकों के विश्व कीर्तिमान के साथ पहला स्थान प्राप्त किया।

सर्बिया के डामिर मिकेक ने 239.3 अंकों के साथ रजत पदक जीता जबकि चीन के पेंग वेई को 215.2 अंकों के साथ कांस्य पदक पर संतोष करना पड़ा।

सौरभ ने स्वर्ण पदक जीतने के साथ ही टोक्यो में 2020 के ओलिंपिक खेलों के लिए भारत को एक ओलिंपिक कोटा दिलाया।

क्वालिफाइंग दौर में तीसरे स्थान पर रहे थे सौरभ :

सौरभ क्वालिफाइंग दौर में 587 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर रहे थे जबकि उनके साथी रविंदर सिंह और अभिषेक वर्मा फाइनल के लिए पात्रता हासिल नहीं कर पाए थे।

अभिषेक 576 अंकों के साथ 24वें और रविंदर 576 अंकों के साथ 26वें स्थान पर रहे थे। क्वालिफाइंग दौर में कोरिया के ली डेमयूंग ने 588 अंकों के साथ पहला और चीन के पेंग वेई ने 587 अंकों के साथ दूसरा स्थान हासिल किया था।

इस्लवान पेनी को स्वर्ण

हंगरी के इस्तवान पेनी ने पुरुषों की 50 मीटर राइफल थ्री पोजीशन में 459.1 अंकों के साथ पहला स्वर्ण पदक जीता।

रूस के सर्गेई कामेंस्की ने 459 अंकों के साथ रजत और इटली के मार्को डी निकोलो ने 444.5 अंकों के साथ कांस्य पदक जीता।

भारतीय निशानेबाजों पारुल कुमार और संजीव राजपूत ने निराशाजनक प्रदर्शन किया। पारुल 1170 अंकों के साथ 22वें और संजीव राजपूत 1169 अंकों के साथ 25वें स्थान पर रहे।

पेनी पात्रता दौर में सातवें स्थान पर रहकर फाइनल में पहुंचे थे लेकिन उन्होंने फाइनल में धमाकेदार प्रदर्शन कर पहला स्थान हासिल किया।

1
Back to top button