छत्तीसगढ़

मस्तूरी व कोटा ब्लॉक के 114 स्वास्थ्य कार्यकर्ता को कारण बताओ नोटिस जारी

हर्षवर्धन

बिलासपुर।

पुरुष नसबंदी पखवाड़े के पहले दिन सोमवार को दो ब्लॉक में सिर्फ पांच लोगों का ही ऑपरेशन हो पाया। इसे देखते हुए सीएमओ ने मस्तूरी व कोटा ब्लॉक के 114 स्वास्थ्य कार्यकर्ता को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। केंद्र सरकार के निर्देश में तीन से 10 दिसंबर तक पुरुष नसबंदी पखवाड़ा चलाया जा रहा है। इसकी शुरुआत सोमवार को मस्तूरी व कोटा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में की गई। इस दौरान मस्तूरी में तीन और कोटा में दो पुरुष की ही नसबंदी हो पाई।

कम संख्या में नसबंदी होने से जिम्मेदार अधिकारी सकते में आ गए हैं। ब्लॉक स्तर पर हर स्वास्थ्य कार्यकर्ता को दो.दो व्यक्ति की नसबंदी कराने का लक्ष्य दिया गया था। विभाग अभियान की असफलता के उन्हें भी जिम्मेदार मान रहा है।

सीएमएचओ ने मस्तूरी के 60 और कोटा के 54 स्वास्थ्य कार्यकर्ता को कारण बताओ नोटिस थमा दिया है। इसमें पूछा गया है कि इतनी कम नसबंदी क्यों हुई। क्या फील्ड में संपर्क नहीं किया गया है।

पूरा करना होगा लक्षय

सीएमएचओ डॉण् बीबी बोर्डे ने नोटिस में स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को साफ किया है कि दी गई जिम्मेदारी को हर हाल में पूरा करना होगा। सभी कार्यकर्ता फील्ड में निकलें और दो.दो पुरुषों को नसबंदी के लिए तैयार करें। इससे स्वास्थ्य कार्यकर्ता सकते में आ गए हैं।

अब भी नसबंदी कांड की दहशत

नसबंदी ऑपरेशन के संचालन की जिम्मेदारी एनएसबीटी ;नसबंदी विशेषज्ञद्ध डॉण् पीके साव को दी गई है। फिर भी नसबंदी कांड की दहशत इतनी है कि लोग तैयार नहीं हो रहे हैं। इधर अधिकारियों को यह समझ नहीं आ रहा है कि वे लोगों को कैसे राजी करें।

Summary
Review Date
Reviewed Item
मस्तूरी व कोटा ब्लॉक के 114 स्वास्थ्य कार्यकर्ता को कारण बताओ नोटिस जारी
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags