नाथन लियोन जैसी गेंदबाजी करना मूर्खतापूर्ण : स्पिनर रविचंद्रन अश्विन

अश्विन ने कहा, 'हम दोनों ने एक ही समय टेस्ट करियर की शुरूआत की थी, इसलिए निश्चित रूप से हम दोनों एक-दूसरे की तारीफ करते हैं.

भारत के स्टार ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने कहा कि वह ऑस्ट्रेलियाई ऑफ स्पिनर नाथन लियोन की गेंदबाजी की तारीफ करते हैं, लेकिन उनके एक्शन जैसी गेंदबाजी करना मूर्खतापूर्ण होगा.

क्रिकइंफो की रिपोर्ट के अनुसार, अश्विन ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया इलेवन के साथ खेले जा रहे चार दिवसीय अभ्यास मैच के तीसरे दिन का खेल समाप्त होने के बाद शुक्रवार को संवाददाता सम्मेलन में यह बात कही. उन्होंने कहा कि वह लियोन की गेंदबाजी की प्रशंसा करते हैं, लेकिन हर किसी का अपना-अपना तरीका होता है.

अश्विन ने कहा, ‘हम दोनों ने एक ही समय टेस्ट करियर की शुरूआत की थी, इसलिए निश्चित रूप से हम दोनों एक-दूसरे की तारीफ करते हैं. मुझे लगता है कि उन्होंने पिछले कुछ वर्षों से काफी अच्छी गेंदबाजी की है और वह अभी भी अच्छा कर रहे हैं. क्या मैं उनसे कुछ सीख सकता हूं. एक बार सीरीज शुरू हो जाए उसके बाद हम दोनों के बीच अच्छी प्रतिस्पर्धा देखेने को मिलेगी.’

उन्होंने कहा, ‘किसी के एक्शन जैसी गेंदबाजी करना काफी मुश्किल है. हम यहां एक्शन और बायोमेकेनिक्स की बात कर रह रहे हैं और यह उस समय पूरी तरह मूर्खतापूर्ण हो जाती है जब कोई कहता है कि यह उनके जैसी स्पिन गेंदबाजी हैं. आप इशांत शर्मा को यह नहीं कह सकते हैं ना कि आप उसे फिलेंडर जैसी गेंदबाजी करेंगे. ऐसा नहीं हो सकता है ना.’

अश्विन ने कहा, ‘आप अपनी ताकतों पर विश्वास करते हैं. मैंने अपने करियर में अब तक 336 के आसपास विकेट लिए हैं तो वहीं वह 300 के करीब विकेट हासिल कर चुके हैं. महत्वपूर्ण बात यह है कि आप अपना एक ही तरीका रखिए और कुछ चीजों को सीखिए.’

अश्विन ने कहा, ‘स्पिनर के तौर पर यह जरूरी है कि पहली पारी में योजना के मुताबिक गेंदबाजी की जाए. अगर दूसरी पारी में कुछ मदद मिली तो गेंद को सही जगह टप्पा खिलाने की कोशिश करूंगा. यह दौरा भी पिछले ऑस्ट्रेलियाई दौरे की तरह ही है. मेरे लिए वह अच्छी सीरीज रही थी, जहां से मेरे करियर में बदलाव आया था.’

अश्विन ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया में बल्लेबाजी की तरह ही गेंदबाजी में भी अच्छी साझेदारी जरूरी है, क्योंकि यहां दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड की तुलना में विरोधी बल्लेबाजों को आउट करना मुश्किल होता है.

अश्विन ने कहा, ‘यहां साझेदारी में गेंदबाजी करना जरूरी है. साझेदारी में गेंदबाजी के दम पर आप उन्हें परेशान कर सकते हैं. कई बार ऐसा ही होगा कि आप पूरी टीम को आउट नहीं कर सके. लेकिन आपको उन पर दबाव बनाना होगा.’

अश्विन ने कहा, ‘सीरीज में साझेदारी में गेंदबाजी करना काफी अहम होगा, क्योंकि हार्दिक पंड्या चोटिल है और टीम को पांचवें गेंदबाज की कमी खल सकती है.

 

Back to top button