खेल

पिच पर U-17 कप की ट्राफी ले जाना सम्मान की बात: छेत्री

पिच पर U-17 कप की ट्राफी ले जाना सम्मान की बात: छेत्री

कोलकाता: भारतीय सीनियर फुटबाल टीम के कप्तान सुनील छेत्री ने आज फीफा अंडर-17 विश्व कप ट्राफी को पिच पर ले जाने को सम्मान करार देते हुए इसे करियर के गौरवपूर्ण क्षणों में से एक करार दिया। छेत्री ने यहां कहा, ‘‘मुझे महज सिर्फ एक दिन पहले ही इसके बारे में बताया गया और मैं यहां मैच शुरू होने से कुछ घंटे पहले आया हूं। भारतीय होने के नाते मैं सचमुच काफी रोमांचित हूं और गौरवान्वित हूं। यह एक मौका है। विश्व कप को पिच पर ले जाना सम्मान की बात है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘यह ऐसी चीज है जो मेरे खेल से संबंधित नहीं है और अपने देश के इतने सारे लोगों में से मुझे विश्व कप ट्राफी को स्टेडियम में ले जाने का मौका दिया गया है। मैं बहुत खुश और उत्साहित हूं।’’ छेत्री ने कहा कि भारत ने अंडर-17 विश्व कप की मेजबानी में अच्छा काम किया और उन्हें कड़ी मेहनत जारी रखने की जरूरत है। उन्होंने कहा, ‘‘हम सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।

हम छोटे कदम उठा रहे हैं। हम सिर्फ खुश और संतुष्ट नहीं हो सकते। हमें लगातार कड़ी मेहनत जारी रखनी होगी। हमने अंडर-17 विश्व कप की मेजबानी में बतौर देश बहुत अच्छा काम किया।’’ छेत्री ने कहा, ‘‘हमारे खिलाडिय़ों ने बहुत अच्छा काम किया। सीनियर टीम बहुत बढिय़ा काम कर रही है। हालांकि बहुत कुछ हासिल करने के लिये अभी लंबा रास्ता तय करना है। ’’

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *