ITBP के जवानों ने बचाई महिला की जान

भिलाई.

अपनी सामाजिक जिम्मेदारी निभाते हुए आईटीबीपी 41 बटालियन के जवानों ने एक बार फिर एक महिला की जान बचाई। मंगलवार रात करीब 9 बजे एक ग्रामीण ने हडेली सीओबी में खबर दी कि उसकी पत्नी को सांप ने काट लिया है।

खबर मिलते ही मेडिकल ऑफिसर डॉ. हरीश ने अपनी टीम को गांव भेजा और जवान उस महिला को अपने कंधे पर उठाकर स्ट्रेचर के सहारे कैंप तक लेकर आएजहां सही समय पर इलाज होने से महिला की जान बच गई। बताया जा रहा है कि उस महिला को जहरीले करैत सांप ने कांटा था।

गंभीर स्थिति में थी

मेडिकल ऑफिसर डॉ हरीश ने बताया कि जब महिला को कैंप में लाया गया था तब वह काफीगंभीर स्थिति में थी। यहां लाने के बाद उसे एंटीवेलम का इंजेक्शन दिया गया। जिससे जहर का असर कम होने लगा।

धीरे-धीरे महिला की स्थिति सामान्य हुई। चूंकि सांप के कांटने के बाद उसे 48 घंटे मेडिकल ऑब्जर्वेशन में रखा जाना था, इसलिए महिला को तत्काल ही कोंडागांव जिला अस्पताल भेजा गया। जहां आगे का इलाज होगा।

हमेशा मदद को तैयार

कोंडागांव क्षेत्र में आईटीबीपी के जवान 24 घंटे ग्रामीणों की मदद के लिएतैयार रहते हैं।डॉ हरीश की मानें तो यहां 41 बटालियन के सीओबी में लगने वाले मेडिकल कैंप के बाद लोगों का विश्वास हम पर बढ़ा है।

स्वास्थ संबंधी कोई छोटी परेशानी हो या बड़ी समस्या लोगो को उम्मीद होती है कि वे यहां आकर ठीक हो जाएंगे। आईटीबीपी ने उनका विश्वास भी बनाएरखा है।यही कारण है कि लोग सीधे प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र ना जाकर उन तक पहुंच रहे हैं।

जीता है विश्वास

कमांडेंट 41 बटालियन आईटीबीपी सुरेंद्र खत्री ने बताया कि कोंडागांव में आने के बाद आईटीबीपी ने अपनी सामााजिक जिम्मेदारी निभाते हुए ग्रामीणों का विश्वास जीता है। हमारी टीम हमेशा उनकी मदद के लिए तैयार है।

Back to top button