बलूच नेता का बयान, ‘जाधव को ईरान से पकड़कर सुरक्षाबलों को सौंपा गया’

भारत भी यही दावा करता है कि पाकिस्तान ने जाधव को ईरान से पकड़ा गया है जहां वह अपना कारोबार करने गए थे

बलूच नेता का बयान, ‘जाधव को ईरान से पकड़कर सुरक्षाबलों को सौंपा गया’

बलूच नेता हिर्बयार मर्री ने कहा है कि भारतीय कुलभूषण जाधव को कभी बलूचिस्तान से गिरफ्तार नहीं किया गया बल्कि जाधव को ईरान से पाकिस्तान समर्थित कट्टरपंथियों ने अगवा किया और बाद में उसे पाकिस्तानी सुरक्षाबलों को सौंप दिया। बता दें कि भारत भी यही दावा करता है कि पाकिस्तान ने जाधव को ईरान से पकड़ा गया है जहां वह अपना कारोबार करने गए थे।

मर्री ने कहा, ‘भारतीय नागरिक जाधव को कभी भी बलूचिस्तान से गिरफ्तार नहीं किया गया था। बल्कि उन्हें पाकिस्तान समर्थित धार्मिक कट्टरपंथियों ने ईरान से अगवा किया और बाद में पाकिस्तानी सुरक्षाबलों को सौंप दिया। इससे पहले ऐसे कई मामले आ चुके हैं, जिसमें चरमपंथियों ने बलूच शरणार्थियों को अफगानिस्तान से अगवा किया और पिर उन्हें ISI या सेना को बेच दिया हो।’

उन्होंने आगे कहा, ‘1970 के दशक के आखिर सालों में पाकिस्तान समर्थित तालिबान ने निर्दोष मर्री बलूच शरणार्थियों की हत्या की, उनके सर काटकर शरीर से अलग कर दिए और तस्वीरें खीचीं ताकि ISI और पाकिस्तानी सेना से पैसे कमा सकें।’

जाधव की मां और पत्नी के साथ पाकिस्तान के बुरे व्यवहार के सवाल पर मर्री ने कहा, ‘इससे भारत और बाकी दुनिया की आंखें खुलनी चाहिए कि कैसे पाकिस्तान बलूच महिलाओं के साथ भी व्यवहार करता है।’ उन्होंने कहा, ‘अगर पाकिस्तान एक वृद्ध महिला के साथ ऐसा व्यवहार कर सकता है, जो भारत से अपने बेटे से मिलने के लिए आई थी, तो यह समझना भी रॉकेट साइंस नहीं है कि वह बलूच कैदियों के साथ कैसा बर्ताव करता होगा।’

पाकिस्तान में खुफिया टॉर्चर सेल होने की खबरों पर मर्री ने कहा, ‘खुद पाकिस्तानी सेनेटर फरातुल्लाह बाबर ने हाल ही में कहा था कि पूरे देश में सीक्रेट टॉर्चर सेल्स हैं। पाकिस्तानी मीडिया ने उनके हवाले से यह खबर चलाई थी कि संसद और सुप्रीम कोर्ट सहित किसी को यह जानकारी नहीं है कि पूरे देश में ऐसी कितनी सेल्स हैं।’

बलूच नेता मर्री ने आगे कहा, ‘पाकिस्तान ऐसा देश नहीं जिसपर भरोसा किया जा सके क्योंकि बलूचों को अनुभव है और वे जान चुके हैं कि पाकिस्तान एक जहरीला सांप है जो उस हाथ को भी काट सकता है, जिससे उसे खाना खिलाया जा रहा है।’

advt
Back to top button