फिंगेस्वर के जंगलों में रोज जगह बदल बदल जुवा खेलने वाले आरोपियों को हुई जेल

राजिम: फिंगेस्वर मुख्यालय के आस पास के गावो के जंगलों में महीनों से जूए की फड़ सुनियोजित रूप से चलाई जा रही थीै,यहां के जंगलों में जुवा खेलने नगर मुख्यालय सहित आस पास के ग्रामीनो के अलावा बाहर से भी खिलाड़ी आने की जानकारी प्राप्त थी रोज हजारो रुपये का जुवा खेला जा रहा था,और फिंगेस्वर पुलिस बेखबर थी,

मुख्यालय के समीप लगे ग्राम गनियारी के प्राकृतिक शौन्दर्य से विभूषित घने जंगलों के बीच सिलियारी बाहरा सन्तोषपुरी धाम का जंगल भी इन जुवा फड़ चलाने वालों का एक ठिकाना है साथ ही प्राप्त जानकारी अनुसार ग्राम सडकड़ा के बासरवार, ग्राम तरजून गा के बांधा व ग्राम परसदा के टेवारी मंदिर के जंगलों में जुआरियों का जमावाड़ा लगा रहता है,नित प्रतिदिन जुवारी आस पास के जंगलों में रोज अलग अलग ठिकाना बदल कर जुवा फड़ का संचालन करते है,

यहां जुवा खेलने आस पास के गाँव के आदतन जुवारी तो पहुंचते है फिंगेस्वर सहित राजिम ,नवापारा, महासमुंद से लेकर कई बड़े ठिकानों से भी लोगो के यहाँ जुवा खेलने पहुंचने की खबर की खबर भास्कर में प्राथमिकता से प्रकाशित किये जाने के बाद शनिवार 4 मई को भरे दोपहरी चिलचिलाते धूप जिले के एडिश्नल एस पी सुखनन्दन राठौर सुनियोजित रूप से अपने कार में शुभ विवाह का सिम्बल लगाये बराती बनकर जिले के पुलिस बल के साथ दो चार पहिया वाहनों में दर्जन भर से अधिक पुलिस बल के साथ छापामार कारवाही कर मोके पर जुवा खेल रहे 8 जुवरियो से 1 लाख 69हजार 750रुपये नगदी व तास के 52 पत्ते के साथ 4 दोपहिया वाहन बरामद किए है.

मौके पर जुवा खेल रहे जुवारी नामदास कोसरेफिंगेस्वर,सियाराम विशवकर्मा जामगांव,साहिद खान दुतकिया खपरी,विनोद चंद्राकर छुरा, चन्द्रिका प्रसाद साहू तुमगांव महासमुंद,लुनेश शर्मा फिंगेस्वर,रामेस्वर साहू फिंगेस्वर,भीष्म कुमार साहू छुरा के उपर सार्वजनिक धृत अधिनियम के धारा 13 के तहत आज 8 आरोपी को न्यायालय में प्रस्तुत कर जेल भेजने की कार्यवाही की गई,

जिले के पुलिस अधीक्षक एम आर अहिरे के निर्देशानुसार की गई इस पूरे कारीवाहि में संतोष सिंह थाना प्रभारी फिंगेस्वर,संजय मेरावी क्राइम ब्रांच टीम प्राभारी प्रमुख रूप से इस पूरे कार्यवाहो में दल बल मौके पर उपस्थित रहे,

Back to top button