राष्ट्रीय

जैन मुनि तरुण सागर की हालत गंभीर, डॉक्टरों ने खड़े किये हाथ

मैक्स अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया।

नई दिल्ली । अस्पताल में भर्ती जैन मुनि तरुण सागर की हालत लगातार गंभीर बनी हुई है। डॉक्टरों ने बताया है कि तमाम कोशिशों के उनकी सेहत में सुधार नहीं हो पा रहा है। उनपर अब दवाओं का असर होना भी बंद हो गया है। जिसके बाद अब उन्होंने आहार लेना भी त्याग दिया है।

दरअसल, 20 दिन पहले उन्हें पीलिया हुआ था, जिसके बाद उन्हें मैक्स अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया। डॉक्टरों ने बताया कि उनके स्वास्थ्य में सुधार नहीं देखा जा रहा है।

कहा जा रहा है कि जैन मुनि ने इलाज कराने से भी इन्कार कर दिया है और कृष्णा नगर (दिल्ली) स्थित राधापुरी जैन मंदिर चातुर्मास स्थल पर जाने का निर्णय लिया है।

संथारा लेने का फैसला

बताया जा रहा है कि बीमारी से लड़ रहे जैन मुनि ने संथारा लेने का फैसला कर लिया है। वे अपने गुरु पुष्पदंत सागर महाराज की स्वीकृति के बाद संथारा ले रहे हैं। इस बीच पुष्पदंत सागर महाराज ने एक वीडियो जारी कर बताया है कि तरुण सागर की हालत गंभीर बनी गई है।

उन्होंने इस संबंध में एक पत्र भी लिखा है। जिसमें मुनि सौरभ सागर और अरुण सागर से दिल्ली पहुंचकर तरुण सागर की समाधि में सहयोग करने के लिए कहा गया है। वहीं, दिल्ली के आसपास के इलाकों में मौजूद संत सौरभ सागर, अनुमान सागर, शिवानंद, प्रश्मानंद और सौभाग्य सागर तरुण सागर से मिलने पहुंच रहे हैं।

Tags
Back to top button