जैजैपुर विद्यालय का हाल बेहाल, शिक्षकों का अभाव

जैजैपुर : बालक शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय जैजैपुर का हाल बेहाल हो गया है । जब हमारे प्रतिनिधि ने बालक शासकीय उत्तर माध्यमिक विद्यालय जैजैपुर में जाकर देखा तो यह पाया कि वहां का भवन का हाल बेहाल हो गया है.

लेकिन जब इसके बारे में प्रभारी प्राचार्य आरआर उरांव से संपर्क किया गया तो यह बताया कि विद्यालय का जिला खनिज संस्थान योजना के तहत स्वीकृति राशि 145.68 जिसका कार्य एजेंसी अभियंता ग्रामीण विकास संभाग ग्रामीण सड़क विकास अभिकरण जांजगीर उन्हें प्रथम किस्त के 5827200 राशि प्राप्त हो गई है।

लेकिन अभी तक किसी प्रकार का निर्माण कार्य प्रारंभ नहीं किया गया है यहां तक की विद्यार्थियों को बैठने के लिए विद्यालय में जगह नहीं है और जो जगह है वहां पर विद्यालय लगाया जा रहा है उसका छत कभी भी धराशाही हो सकता है

दूसरी ओर जहां पर यहां पर नगर पंचायत होने के उपरांत शिक्षकों का कभी देखा गया 6 जनभागीदारी के बदौलत विद्यालय का संचालन हो रहा है। छात्रों ने यह भी बताया कि यहां पर जो शिक्षक आते हैं अपना पूरा परिएड इधर-उधर करके समाप्त कर देते हैं।

जहां पर शासकीय शिक्षक हैं वे अपने काम में लगाव नहीं रखते केवल औपचारिकता निभाते हैं छात्रों ने यह भी बताया की जनभागीदारी शिक्षक के बदौलत यह विद्यालय का संचालन हो रहा है ।

जिस में भी लगभग 15 शिक्षकों का अभाव है वहीं पर मीडिल स्कूल में एक शिक्षक पढ़ा रही है जिसमें 11 शिक्षकों का अभाव देखा जा रहा है मिडिल स्कूल एवं हायर सेकंडरी स्कूल दोनों में शिक्षकों की कमी है, जबकि यहां का यह नामी विद्यालय है.

एक तरफ तो शिक्षकों का अभाव दूसरी तरह से जर्जर विद्यालय लेकिन ठेकेदार द्वारा प्रथम किस्त प्राप्त होने के बाद भी अभी तक किसी प्रकार का निर्माण कार्य प्रारंभ नहीं किया गया है।

Tags
Back to top button