जमात-ए-उलेमा हिन्द ने मॉब लिंचिंग के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया

मॉब लिंचिंग की घटनाओं की जांच की मांग

नई दिल्ली: जमात-ए-उलेमा हिन्द इस्लामिक संगठन के प्रमुख ने मौजूदा मॉब लिंचिंग की घटनाओं के लिए कांग्रेस सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा की मौजूदा मोदी सरकार और आरएसएस जिम्मेदार नहीं हैं। तत्कालीन कांग्रेस सरकार में इन घटनाओं की जांच न होने का दोष भी कांग्रेस के मत्थे मढ़ा।

जमात-ए-उलेमा-हिंद के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना सुहैब कासमी ने कहा कि देश में मॉब लिंचिंग की बढ़ती घटनाओं के लिए मुख्य रूप से कांग्रेस पार्टी जिम्मेदार है न कि सत्तारूढ़ दल भाजपा या फिर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ। कासमी ने कहा कि अगर इसकी उच्चस्तरीय जांच की जाती है तो यह साफ हो जाएगा। मौलवी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के दौरान हुई मॉब लिंचिंग की घटना की जांच होनी चाहिए।

कांग्रेस के पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने इसपर प्रतिक्रिया देते हुए कहा की लोग आज भी डरे-डरे जी रहे हैं। एएनआई से बात करते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि दिल्ली में रहने वाले लोग डर में नहीं रह रहे हैं,बल्कि इलाके में रहने वाले लोग देश में व्यप्त माहौल के कारण भय में जी रहे हैं।

Back to top button