छत्तीसगढ़

जन्मशताब्दी पर जनप्रतिनिधियों ने किया पंडित दीनदयाल को याद

रायपुर : राजधानी के तेलीबांधा रिंगरोड चौक के पास सोमवार को एकात्म मानववाद सिद्धांत के प्रणेता पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जन्म शताब्दी वर्ष मनाया गया। उनके प्रतिमा स्थल पर जनप्रतिनिधियों ने उनके कार्यों की सराहना कर नमन किया। कार्यक्रम नगर पालिक निगम रायपुर के संस्कृति विभाग के तत्वावधान में हुआ।
महापौर प्रमोद दुबे ने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जीवनी पर विचार व्यक्त करना सूरज को दीपक दिखलाने जैसा कार्य है। वे प्रारंभ से ही आदर्शवादी व्यक्तित्व रहे। उपाध्याय कुशल अर्थशास्त्री, दार्शनिक , विचारक, राष्ट्र भक्त थे। पंडित उपाध्याय ने अपना पूरा जीवन राष्ट्र सेवा के लिए समर्पित किया। वे सदैव अखंड भारत वर्ष के निर्माण व विकास के पक्षधर रहे। उन्होने समाज की अंतिम पंक्ति के अंतिम व्यक्ति के उत्थान की दृष्टि से अंत्योदय की नीति का निर्माण किया।
इस अवसर पर महापौर प्रमोद दुबे, लोकनिर्माण मंत्री राजेश मूणत, छगन लाल मुंदडा, नगर निगम सभापति प्रफुल्ल विश्वकर्मा, रायपुर विकास प्राधिकरण अध्यक्ष संजय श्रीवास्तव, सच्चिदानंद उपासने, लोकेश कावडिया, राधेश्याम विभार सहित बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply