छत्तीसगढ़

जांगडे ने मुख्यमंत्री से लगाई गुहार, श्रमिको के साथ अत्याचार पर कार्यवाही की मांग

दीपक वर्मा:

आरंग: मंदिर हसौद मोनेट सयंत्र जिसका संचालन एओएन एवं जे.एस.डब्लु लि.द्वारा संचालित है, जहा कार्यरत श्रमिक को  सुरक्षा के मापदंडो  के तहत पर्याप्त साधन उपलब्ध नही कराने से गंभीर दुर्घटना को होने को लेकर परमानंद जांगडे पूर्व जिला पंचायत सदस्य ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, कलेक्टर, एस.पी. तथा उपनिदेशक कारखाना तथा संबंधित थाने में दुर्घटनाओ के दोषी कम्पनी प्रबंधन के ओक्कुपायर तथा कारखाना प्रबंधक एवं कम्पनी के सी.ई.ओ.के विरुद्ध आपराधिक प्रकरण दर्ज कर कड़ी कठोरतम कार्यवाही की मांग किया है।  

जांगडे ने अपने  शिकायत पत्र में कम्पनी के श्रमिको, कर्मचारीयों जो विगत 1 वर्ष में गंभीर दुर्घटनाओ के शिकार हुए है, जिसे  काफी दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कम्पनी प्रबंधन की सुरक्षा निती पर सवालिया निशान खड़ा कर दी है, जो की जांगडे का आरोप लाजमी  नजर आती है की हाल में एक ही कम्पनी में 8 गंभीर दुर्घटना सवालिया निसान खडी करती है।

श्रमिको के सुरक्षा को लेकर उनका आरोप है कि श्रम तथा स्वास्थ्य सुरक्षा नियमो के विरुद्ध लापरवाही पूर्वक कार्य कराये जाने से लगातार गंभीर दुर्घटना घटित होने से श्रमिको को मृत्यु सहित गंभीर रूप से अपाहिज होना पड़ा है।

विगत 1 वर्षो में दर्जन से अधिक दुर्घटना घटित हो गयी है। उनके उपरांत भी कम्पनी प्रबंधन सुरक्षात्मक कार्य हेतु मजदूरों के हितो में कोई ठोस पहल नही किया है।  दिनांक 19/09/19 को उपेन्द्र कुमार तिवारी पुन; दुर्घटना के शिकार हो गया।

Tags
Back to top button