जन्माष्टमी स्पैशल: व्रत में ज़रूर खाएं ये चीजें और रहे एनर्जेटिक

व्रत में आपका खान-पान कैसा होना चाहिए और किन लोगों को यह व्रत नहीं रखना चाहिए।

जन्माष्टमी का त्यौहार भारत में बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है। इस साल यह त्यौहार 3 सितंबर को मनाया जा रहा है और कृष्ण भक्तों ने इसकी तैयारियां करनी भी शुरू कर दी हैं। कुछ लोग इस दिन व्रत भी रखते हैं। मगर जन्माष्टमी व्रत के दौरान आपको बहुत-सी बातों का ध्यान रखना पड़ता है। आज हम आपको बताएंगे कि इन व्रत में किन चीजों का सेवन आपको स्वस्थ रखने साथ दिनभर एनर्जी से भरपूर रखेगा। तो चलिए जानते हैं कि व्रत में आपका खान-पान कैसा होना चाहिए और किन लोगों को यह व्रत नहीं रखना चाहिए।

इन चीजों को खाएं और रहे एनर्जेटिक

1. व्रत के दौरान आप फल और फलों के जूस का भी सेवन कर सकते हैं। ऑक्सीडेंट, विटामिन सी, फॉलेट, बीटा-कैरॉटिन और दूसरे न्यूट्रिएंट्स से भरपूर फलों का सेवन करने से आपका पाचन तंत्र मजबूत रहता है। इससे आपको एनर्जी तो मिलती है साथ ही आप स्वस्थ भी रहते हैं।

2. इस व्रत में आप दिन में पानी, फल और दूध ले सकते हैं। ऐसे में दूध से बनी ठंडाई का सेवन करें। कैल्शियम और प्रोटीन से भरपूर ठंडाई पेट के लिए बहुत अच्छी होती है और इससे आपको तुरंत एनर्जी मिलती है।

3. व्रत के एक दिन पहले स्वादिष्ट के साथ ही पौष्टिक खाना खाएं। यह आपके पाचन क्रिया को स्वस्थ्य रखेगी। साथ ही इस दिन अधिक तेल-मसाले वाली चीजें खाने से भी बचें। इससे आपको एसिडिटी की दिक्कत हो सकती है।

4. व्रत के दौरान आप पानी पी सकते हैं इसलिए इस दौरान आप खूब पानी पीएं। अगर आपका निर्जला व्रत है तो इसके एक दिन पहले तक खूब पानी पीएं।

5. व्रत तोड़ने के बाद लोग अक्सर तली भुनी चीजें खाना पसंद करते हैं लेकिन ये आपकी पाचन क्रिया के लिए ठीक नहीं है। तली भुनी चीजें खाने के लिए एक दो दिनों का और इंतजार कर लें और व्रत खोलते समय हल्की-फुल्की चीजों का सेवन करें।

6. जब आप व्रत करते हैं तो आपके शरीर का शुगर लेवल गिर जाता है। इससे नींद आना और आलस जैसी परेशानी होती है। ऐसे में आलस को भगाने के लिए दूध से बनी मिठाइयों का सेवन करें।

ये लोग न रखें व्रत

1. जिन लोगों के शरीर में खून की कमी हो या जिनके खून में हीमोग्लोबिन की कमी होती है उन्हें उपवास नहीं रखने चाहिए।

2. डायबिटीज़ के मरीजों के लिए पूरे दिन भूखा रहना खतरनाक माना जाता है इसलिए आप इस व्रत से दूरी बनाए।

3. जिनका ब्लड प्रेशर हाई रहता है उन्हें भी किसी भी तरह का व्रत नहीं करना चाहिए। पूरे दिन भूखे रहने पर हाई बीपी के मरीजों का बॉडी सिस्टम बिगड़ जाता है जिससे उनकी जान खतर में पड़ सकती है।

4. दिल के मरीजों के लिए किसी भी तरह का व्रत रखना खतरनाक हो सकता है। वैसे भी व्रत के दौरान पूरे दिन भूखा रहकर शाम को अचानक खाने से कोलेस्ट्रॉल और बीपी के बढ़ने का खतरा होता है जो दिल के मरीजों के लिए घातक है।

5. अगर आपको किडनी से जुड़ी कोई प्रॉब्लम है तो आप भी यह उपवास न रखें।

6. उन मरीजों को भी उपवास नहीं रखने चाहिए जिनके हाल-फिलहाल में सर्जरी हुई है। इन दौरान बॉडी को कई सारे मिनरल्स और विटामिन्स की जरूरत होती है जो केवल सात्विक खाने और जूस से प्राप्त नहीं हो सकती।

<>

Tags
Back to top button