देशभर में जन्माष्टमी की धूम, महाराष्ट्र में दही हांडी के दौरान 36 गोविंदा घायल

मथुरा।

रविवार रात कृष्ण जन्म के साथ ही देशभर में जन्माष्टमी की धूम मचने लगी है। यह भगवान कृष्ण के इस धरा पर अवतरण का 5244वां वर्ष है। देशभर में इस मौके पर जश्न मन रहा है वहीं महाराष्ट्र में दही हांडी का उत्साह चरम पर है।

देर रात कृष्ण जन्म के साथ ही दही हांडी फोड़ने का कार्यक्रम शुरू हो चुका था। सुबह से ही मुंबई के अलग-अलग इलाकों में गोविंदाओं की टोलियां हांडी फोड़ने के लिए निकली। इस दौरान हुई दुर्घटनाओं में अब तक 36 से ज्यादा गोविंदाओं के घायल होने की सूचना है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर देश की जनता को जन्माष्टमी की शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है, ‘श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन अवसर पर सभी को हार्दिक शुभकामनाएं। जय श्रीकृष्ण!’

वहीं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी देश के लोगों को इस मौके पर शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ‘जन्माष्टमी के शुभ अवसर पर मैं सभी भारतवासियों को बधाई और शुभकामनाएं देता हूं। भगवान कृष्ण के जीवन और शिक्षाओं का सबके लिए एक प्रमुख संदेश है; निष्काम कर्म’। जन्माष्टमी का यह पर्व हमें मन, वचन और कर्म से शील और सदाचार के मार्ग पर चलने की प्रेरणा दे राष्ट्रपति कोविन्द’

मंदिरों में उमड़े भक्त

जन्माष्टमी पर देशभर के मंदिरों में भारी संख्या में भीड़ उमड़ रही है। देर रात ही भक्त बाल गोपाल के दर्शनों को लाइन लगाकर खड़े हो गए। ऐसा ही उत्साह केशवदेव मंदिर, द्वारिकाधीश, बांके बिहारी मंदिर पर भी दिखाई दिया। रात होते ही ये मंदिर रंगबिरंगी रोशनी से नहा उठे।

व्यवस्था संभालने को तीन हजार से अधिक जवान तैनात किए गए हैं। मथुरा और वृंदावन में सभी होटल, गेस्ट हाउस और आश्रमों में कमरे फुल हो चुके हैं। ऐसे में श्रद्धालुओं ने सड़कों और खुले स्थानों पर डेरा जमा लिया है। जगह-जगह भंडारे चल रहे हैं।

Tags
Back to top button