मिसाइल हमले से निपटने के लिए हो रही ड्रील को जापान ने रोका

तोक्योः जापान ने वाशिंगटन और प्योंगयांग के बीच ऐतिहासिक वार्ता के मद्देनजर, देश पर मिसाइल हमले की स्थिति में लोगों को निकालने के लिये किया जाने वाला अभ्यास रोक दिया है। सरकारी अधिकारियों ने तत्काल उन खबरों की पुष्टि नहीं की है, लेकिन एक शहर के अधिकारियों ने बताया कि वे तोक्यो के आदेश पर अगले सप्ताह होने वाले अभ्यास को रोक रहे हैं।

यह फैसला अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के पिछले सप्ताह सिंगापुर में शिखर वार्ता करने के मद्देनजर किया गया। वार्ता के दौरान दोनों नेताओं ने एक संयुक्त दस्तावेज पर हस्ताक्षर किये थे , जिसमें कोरियाई प्रायद्वीप को परमाणु हथियार मुक्त बनाने की बात कही गई है ।

नगर अधिकारी युताका यानगिडा ने बताया कि तोक्यो के उत्तर में स्थित तोचिगी प्रांत के यैता में अगले सप्ताह 350 स्कूली बच्चों समेत तकरीबन 800 लोगों को लेकर हमले की स्थिति में वहां से निकालने के लिये अभ्यास की योजना थी। संपर्क किये जाने पर मंत्रिमंडलीय कार्यालय के एक अधिकारी ने बताया कि सरकार हमले की स्थिति में लोगों को निकालने के लिये किये जाने वाले अभ्यास पर शुक्रवार को अपनी नीति की घोषणा करेगी।

Back to top button