जशपुरनगर : शिक्षा विभाग में हुआ जिला स्तरीय वेबीनार, जिले के 3000 से अधिक शिक्षक हुए एक साथ सम्मिलित

कलेक्टर जशपुर एवं जिला शिक्षा अधिकारी जशपुर के मार्गदर्शन में शिक्षकों को एक साथ प्रशिक्षित करने का प्रयास भी किया।

जशपुरनगर 11 जुलाई 2021 : कलेक्टर जशपुर एवं जिला शिक्षा अधिकारी जशपुर के मार्गदर्शन में शिक्षकों को एक साथ प्रशिक्षित करने का प्रयास भी किया। जिसमें उद्बोधनकर्ता एवं राज्य स्तर से सम्मिलित हुए अतिथि वेबएक्स के माध्यम से एवं जिले भर से 3000 से अधिक शिक्षक यूट्यूब के लिंक https://youtube/DsÛBzu7V9LM के माध्यम से इस कार्यक्रम में जुड़ पाए।

उक्त वर्चुअल सेमिनार में कलेक्टर जशपुर के द्वारा शिक्षा विभाग के सभी संस्था प्रमुखों एवं शिक्षकों को कोरोना के गाइडलाइन्स का सख्ती से पालन करते हुए विद्यालयों में पाठ्यपुस्तक वितरण, स्कूल ड्रेस वितरण, मध्याह्न भोजन सामग्री वितरण एवं ऑनलाइन कक्षा के साथ मोहल्ला कक्षा लगाने हेतु विशेष अनुरोध किया एवं जिले के समस्त शिक्षक, शिक्षाकाओं को नए सत्र की शुभकामनाएं दी।

जशपुर में शायद ही कोई ऐसा भवन हो जिसमें एक साथ 3000 से अधिक लोगों को बैठाकर लगातार 3 घंटे का प्रशिक्षण दिया जा सके। परंतु वर्तमान में आई नई प्रकार की टेक्नोलॉजी, जागरूकता एवं पहल से शिक्षा विभाग जशपुर ने यह कर दिखाया एवं 3000 से अधिक लोगों को ऑनलाइन माध्यम से वेबएक्स एवं यूट्यूब के द्वारा एक साथ जोड़ कर न केवल कार्यक्रम को संचालित किया अपितु 3000 शिक्षकों को एक साथ प्रशिक्षित करने का प्रयास भी किया।

शिक्षा अधिकारी के द्वारा शिक्षकों से इस कोरोना काल में अपने कर्तव्यों का निष्ठापूर्वक निर्वहन एवं विभिन्न प्रकार के नवाचारों हेतु शिक्षकों को प्रेरित किया तथा शिक्षकों को चर्चा पत्र के एजेंडा के अनुसार कार्य करने की सलाह दी। कार्यक्रम का संचालन कुशल प्रशिक्षक संजय दास एवं इसका यूट्यूब पर प्रसारण एवं संचालन तकनीकी विशेषज्ञ शिक्षक एलन साहू द्वारा किया गया।

सहायक संचालक डॉ. एम. सुधीश

एस.सी.ई.आर.टी. रायपुर से समग्र शिक्षा अभियान के सहायक संचालक डॉ. एम. सुधीश ने चर्चा पत्र होने वाले लाभ एवं इसके उपयोग पर विस्तृत रूप से चर्चा किया। वही संकल्प संस्थान जशपुर के प्राचार्य विनोद गुप्ता एवं जिला मिशन समन्वयक विनोद पैकरा द्वारा शिक्षकों के मार्गदर्शन दिया गया। जशपुर विकासखंड शिक्षा अधिकारी एम.जेड.यू. सिद्धकी के द्वारा केबल टीवी के माध्यम से कोरोना काल में कैसे अध्यापन कार्य नगरीय क्षेत्र में किया गया एवं इससे 2600 से भी अधिक विद्यार्थी किस प्रकार लाभान्वित हुए इस संबंध में विस्तृत रूप से चर्चा किया गया।

राज्य स्तर से शिक्षा विभाग में नायक के रूप में वीरेंद्र भगत, भुवनेश्वरी साहू, पंचम रोहिणी, ज्योति उइके एवं सईदा खान शामिल हुए। वहीं जिले से प्रशिक्षक के रूप में सेतराम पटेल, कमल चंदेल, नित्यानंद यादव, रामकुमार तिवारी, सीमा गुप्ता, सरिता नायक, बनारसी यादव एवं गायात्री देवता सम्मिलित रहे।

कार्यक्रम का संचालन लगभग 3 घंटे तक चला। इस दौरान समग्र शिक्षा द्वारा राज्य स्तर से जारी होने वाली चर्चा पत्र पर गंभीर चर्चा की गई। साथ ही इस कोरोना काल में वैकल्पिक शिक्षा के क्या विकल्प हो सकते हैं इस पर सकारात्मक संगोष्ठी की गई। कार्यक्रम के अंत में डी.ई.ओ. जशपुर द्वारा आभार प्रकट किया गया एवं प्रशिक्षक टीम के साथ टेक्निकल टीम की भूरी भूरी प्रशंसा की गई इस अवसर पर मीडिया प्रभारी के रूप में संजीव शर्मा वर्चुअल रूप से कार्यक्रम में उपस्थित रहे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button