जशपुरनगर : प्रधानमंत्री आवास योजना ने कच्चे मकान से पक्का मकान बनाने के सपने को किया साकार

हर साल बरसात में टपकते छत से मिली राहत

 अब नहीं रहता आंधी तूफान और सांप बिच्छू का भय- किसान अलबिनुस

जशपुरनगर 23 मार्च 2021 : खुद का पक्का मकान हर व्यक्ति का अरमान होता है। इसी अरमान को दुलदुला विकासखंड के ग्राम पंचायत चांपाटोली के एक छोटे कृशक 55 वर्षीय अलबिनुस ने अपने जमा पुंजी एवं प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ मिलने से साकार कर दिखाया।

कृषक अलबिनुस के परिवार के जीवन-यापन का एकमात्र साधन खेती और मजदूरी है। उनके पास 2.5 एकड़ जमीन है जिस पर वह केवल बरसात के समय 4 माह खेती कर बाकी साल मजदूरी करके अपना और अपने परिवार का पालन-पोशण करते थे। मेहनत मजदूरी से जीवन यापन करने वाला उनका परिवार पहले खपरैल के कच्चे घर में रहता था। अलबिनुस अपने परिवार के 6 अन्य सदस्यों अपनी पत्नी, एक पुत्र एवं 4 पुत्रियों के साथ पुराने कच्चे मकान में रहता था।

बड़ा परिवार होने के कारण उसे छोटे से मकान में रहने में परेशानी होती थी। साथ ही मिट्टी के घर होने के कारण उन्हें बारिश के मौसम में छत से पानी टपकना, जमीन में सिलन आना, साथ ही कच्चे मकान होने के कारण जहरीले सांप, बिच्छू का डर भी सदैव बना रहता था। कई बार बारिश के दिनों में मजदूरी का काम छोड़कर बार-बार कच्चे मकान की मरम्मत भी करनी पड़ती थी जिससे परिवार के समक्ष आर्थिक समस्या भी उत्पन्न होती थी।

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण

अलबिनुस का प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण अंतर्गत वर्ष 2019-20 में आवास स्वीकृत हुआ तब उन्होंने योजना के महत्व को समझते हुए पूर्व में अपनी मेहनत मजदूरी से जमा की हुई धनराशि एवं शासन द्वारा प्रदाय की गई अनुदान राशि का सदुपयोग करते हुए बड़ी ही मेहनत से एक बहुत सुंदर आवास बनाया है। जिसमें दो बड़े कमरे, हॉल, रसोई, पक्की फर्श सहित शौचालय की सुविधा है। अलबिनुस ने कहते है कि वे अपने सपनों के घर के लिए पैसे का बचत करते थे।

लेकिन एक साथ बड़ी रकम जमा करना उनके लिए आसान नहीं था। इसी बीच प्रधानमंत्री आवास योजना से उनके लिए आवास की स्वीकृति मिली। यह सुनकर उन्होंने अपने जमा किए हुए राशि भी इस आवास योजना में शामिल कर दिए। जिससे उनका घर बेहद सुन्दर एवं घर में अधिक कमरे भी बनाने में आसानी हो गई। जिसकी सराहना कलेक्टर महादेव कावरे ने भी की। वे अपने निरीक्षण के दौरान अलबिनुस के घर पहुंचे और उन्होंने उनके घर की प्रशंसा की।

अलबिनुस ने कभी भी नहीं सोचा था कि वह अपने कच्चे मकान से निकल कर पक्के मकान में भी रह पाएगा लेकिन शासन की महत्वपूर्ण प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण से असंभव से लगने वाला उसका सपना सच हुआ। वर्तमान में अलबिनुस की दो बेटियों की शादी हो जाने के बाद अब वह अपने पत्नी और बाकी बच्चों के साथ खुशी-खुशी अपने नए घर में जीवन-यापन कर रहे है। साथ ही शासन की अन्य योजनाओं का लाभ लेकर अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत कर रहे है।

आवास मित्र की सहायता 

अलबिनुस ने शासन द्वारा किए जा रहे सराहनीय कार्यो की प्रशंशा करते हुए बताया कि उन्हें आवास निर्माण में किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं हुई। आवास मित्र की सहायता से उन्हें अपने आवास की सारी किश्त समय पर प्राप्त हुई एवं समय-समय पर उनके द्वारा मार्गदर्शन व तकनीकी जानकारियां भी दी गई। अपने पक्के आशियाने के सपने का साकार होने पर अलबिनुस ने राज्य शासन एवं जिला प्रशासन को सहृदय धन्यवाद दिया।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button