जावड़ेकर का बयान ठेठ फासीवादी मानसिकता और सोच की निशानी : ओवैसी

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के बयान के लेकर ओवैसी ने जमकर साधा निशाना

हैदराबाद: तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी की ओर से 19 जनवरी को कोलकाता में आयोजित विपक्ष की रैली पर तंज कसते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा था कि ये लोग कोई विकल्प नहीं देने जा रहे हैं और देश में ‘ऐसी स्थिति है कि अगर मोदी नहीं हों तो फिर अराजकता होगी.’

जिसके बाद एआईएमआईएम (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के बयान के लेकर जमकर निशाना साधा. ओवैसी ने कहा, ‘‘ यह ठेठ फासीवादी मानसिकता और सोच की निशानी है. सारे फासीवादियों को लगता है कि उनका नेता देश से भी बड़ा है.’

ओवैसी ने कहा कि यह बयान भाजपा के ‘ठेठ फासीवादी सोच और विचार’ को दिखलाता है. उन्होंने कहा कि देश गैर भाजपाई, गैर कांग्रेसी प्रधानमंत्री चाहता है. उन्होंने कहा कि यह होने जा रहा है और जैसे ही यह होगा, वैसे ही संघ और भाजपा में अराजकता और अफरा-तफरा मच जाएगी.

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ वास्तविकता यह है कि अगर देश में लाख मोदी, राहुल गांधी और ओवैसी हों तो भी हम देश से बड़े नहीं होंगे. यह देश हम सभी से बड़ा है. देश में कोई अराजकता नहीं होगी.

1
Back to top button