दुष्कर्म पर चर्चा के दौरान जया बच्चन अपनी भावना पर काबू नहीं रख सकीं

संसद में गूंजा हैदराबाद दुष्कर्म का मामला, भावुक जया बोलीं भीड़ के हवाले किए जाएं आरोपी

नई दिल्ली. हैदराबाद में महिला डॉक्टर को रेप के बाद मारकर जला डालने का मामला सोमवार को संसद के दोनों सदनों में गूंजा. इस मामले में राज्यसभा के दो सांसदों ने बेहद सख्त टिप्पणी की. सपा सांसद जया बच्चन ने तो दोषियों को भीड़ के हवाले कर देने तक का सुझाव दे डाला. जया बच्चन ने संसद के ऊपरी सदन में चर्चा के दौरान कहा कि रेप के आरोपियों को बाहर लाना चाहिए और उन्हें भीड़ के हवाले कर देना चाहिए. वहीं, एआईएडीएमके की सांसद विजिला सत्यानंद ने दोषियों को 31 दिसंबर तक फांसी दे दिए जाने की मांग की.

इससे पहले, कुछ राज्यसभा सांसदों ने हैदराबाद की नृशंस घटना पर चर्चा के लिए नोटिस दिया. चर्चा के दौरान समाजवादी पार्टी की सांसद जया बच्चन अपनी भावना पर काबू नहीं रख सकीं और सभापति वेंकैया नायडू से मुखातिब होते हुए कहा, सर, मेरा सुझाव है कि ऐसे लोगों को भीड़ के हवाले कर देना चाहिए. उन्होंने कहा कि माब लिंचिंग के लिए ये बिल्कुल उपयुक्त पात्र हैं. उन्होंने कहा हम सदन में ऐसे जघन्य मामलों पर चर्चा करते हैं, लेकिन कोई निर्णायक पहल नहीं होती…हैदराबाद हुआ, निर्भया हुआ, कठुआ हुआ.

Back to top button