छत्तीसगढ़राजनीति

महंत ने किया है प्रदेश के अन्नदाताओं का अपमान : अमित जोगी

रायपुर : मरवाही विधायक अमित जोगी ने कांग्रेस और भाजपा की मानसिकता को किसान विरोधी बताया है। दोनों ही दल किसानों को शराबी बता कर अन्नदाता का अपमान कर रहे हैं। उन्होंने पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता चरणदास महंत के बयान की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि उनके इस तरह के बयान से किसानों के प्रति उनकी सोच उजागर होती है। जोगी ने कहा है कि एक तरफ कांग्रेस के नेता अन्नदाता को शराबी बताते हुए घूम रहे हैं तो दूसरी तरफ भाजपा सरकार अफसरों पर दबाव बनाती है कि आत्महत्या करने वाले किसानों को शराबी-जुआरी साबित किया जाए। मरवाही विधायक ने कहा कि पूर्व राज्यमंत्री महंत सत्ता में आने के लिए इतने लालची हैं कि किसानों से सहानुभूति जताने की बजाय उन्हें शराबी बता रहे हैं। वे यह भूल जा रहे हैं कि यही किसान अन्नदाता हैं और यही जब अन्न उपजाते हैं तब ही उनके सहित प्रदेश की जनता का पेट भरता है। ऐसे में अन्नदाताओं का यह अपमान जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़(जे) नहीं सहेगी। अमित जोगी ने कहा कि कांग्रेस यदि किसान हितैषी होती तो यह सरकार इतने बरसों से शासन नहीं कर रही होती, क्योंकि किसानों के साथ अन्याय तो रमन सरकार शुरु से करती आ रही है। यह वही कांग्रेस है जो महज प्रेस कांफ्रेस तक किसानों की हितैषी होती है। उन्होंने कहा कि दूसरी तरफ भाजपा भी ऐसी ही है। रमन सरकार किसानों के लिए घोषणाएं और वादे तो बड़े बड़े करती है, लेकिन हकीकत में उनके हिस्से कुछ नहीं आता। भाजपा के घोषणा पत्र में धान का समर्थन मूल्य बढ़ाने का वादा कर भूलने वाली रमन सरकार ही है, और चुनाव नजदीक देख महज एक साल का बोनस आधे से भी कम किसानों को देने वाली भी रमन सरकार ही है। यह वही सरकार है जो किसान आत्महत्याओं के बाद उन किसानों को शराबी अथवा जुआरी साबित करने का दबाव जिले के अफसरों पर डालती है और जिला प्रशासन अपनी झूठी जांच रिपोर्ट में यह साबित भी कर देता है। प्रदेश की भाजपा सरकार एक तरफ लंबे समय से कहती आ रही है कि शराबबंदी की ओर कदम बढ़ा रहे हैं तो दूसरी ओर राजस्व के लालच में यह सरकार खुद ही शराब बेचने में लग गई। मुख्यमंत्री रमन सिंह मंत्रियों के मुखिया है या फिर व्यसायियों के।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *